Delhi Excise Case में के कविता की मुश्किलें बढ़ती जा रही है.

3

16031 pti03 15 2024 000247a

Delhi Excise Case: तेलंगाना के पूर्व सीएम के चंद्रशेखर राव की बेटी के कविता को पिछले दिनों गिरफ्तार किया है. इसके बाद जांच एजेंसी ईडी ने सोमवार को कथित शराब नीति घोटाले में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को उनके सह-साजिशकर्ता के रूप में शामिल किया है. आरोप लगाया गया है कि के कविता ने अन्य लोगों के साथ मिलकर, दिल्ली की एक्साइज पॉलिसी के निर्माण और कार्यान्वयन में लाभ पाने के लिए साजिश रची. इसमें उनका साथ अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसौदिया ने दिया. बता दें कि जांच एजेंसी ईडी ने 15 मार्च की शाम हैदराबाद से के कविता को गिरफ्तार किया था जिसके बाद उन्हें दिल्ली की एक कोर्ट ने 23 मार्च तक के लिए ईडी की हिरासत में भेज दिया था. अभी वह जांच एजेंसी की हिरासत में हैं और उनसे पूछताछ की जा रही है.

100 करोड़ रुपये का भुगतान के कविता की ओर से किया गया

जांच एजेंसी ईडी की ओर से कहा गया है कि आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं को के कविता की ओर से 100 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया. यह भुगतान के कविता को हुए लाभ के बाद किया गया. इस बीच ‘आप’ ने ईडी के दावों का खंडन किया है. पार्टी की ओर से कहा गया है कि इससे पहले भी जांच एजेंसी की ओर से कई दावे किये गये थे जो बाद में झूठे साबित हुए. इससे यह पता चला है कि ईडी कोई निष्पक्ष जांच एजेंसी नहीं है बल्कि वह बीजेपी के इशारों पर काम कर रही है. ये लोग अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया की छवि को खराब करने का प्रयास कर रहे हैं जिसमें कामयाबी नहीं मिलने वाली है.

शराब कारोबारियों की ‘साउथ ग्रुप’

ईडी की ओर से दावा किया गया था कि के कविता शराब कारोबारियों की लॉबी ‘साउथ ग्रुप’ से जुड़ी हुई थीं. दिल्ली एक्साइज पॉलिसी 2021-22 के निर्माण और कार्यान्वयन में ‘भ्रष्टाचार व साजिश’ से, आम आदमी पार्टी को थोक विक्रेताओं से रिश्वत के रूप में लगातार पैसा मिला जो अवैध था. कविता और उसके सहयोगियों को अग्रिम भुगतान की गई. एजेंसी ने आगे कहा कि अपराध की आय की वसूल करनी थी. इस पूरी साजिश से अपराध की आय या यूं कहें कि मुनाफे को बढ़ाना था.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.