दिल्ली में तेजी से बढ़ रहा है डेंगू का खतरा! एक हफ्ते में सामने आये 56 नये मामले, मलेरिया के भी 11 केस

43

Dengue in Delhi: दिल्ली में डेंगू का आतंक बढ़ता जा रहा है. बीते एक हफ्ते में दिल्ली में डेंगू के 56 नये मामले सामने आए हैं. हालांकि, आफत सिर्फ डेंगू के रूप में नहीं आ रही है. डेंगू के साथ-साथ मलेरिया भी तेजी से सिर उठा रहा है. दिल्ली में बीते एक हफ्ते में मलेरिया के भी 11 नये मामले भी सामने आए है. इस बीच राहत की बात बस यही है कि दिल्ली में लगातार तीसरे हफ्ते भी चिकनगुनिया का एक भी मामला सामने नहीं आया. दिल्ली नगर निगम नगर निगम ने यह जानकारी दी है. बता दें, बरसात का मौसम आते ही दिल्ली में मच्छर जनित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया से देश की राजधानी सबसे ज्यादा परेशान रहती है. दिल्ली में डेंगू और अन्य मच्छर जनित बीमारियों से हर साल कितने ही लोगों की मौत हो जाती है.

बाढ़ ने और बढ़ाई डेंगू और मलेरिया की समस्या
गौरतलब है कि हर साल दिल्ली में बरसात अपने साथ बीमारियों की भी सौगात लाता है. बरसात के मौसम में डेंगू और मच्छर जनित बीमारियों में काफी इजाफा हो जाता है. वहीं, इस बार यमुना में आये बाढ़ और जोरदार बारिश के कारण हुए जलभराव के कारण मलेरिया और डेंगू की समस्या में खास इजाफा देखने को मिला है. बाढ़ के कारण हुए जलजमाव के कारण दिल्ली में डेंगू का खतरा बढ़ गया है. लगातार डेंगू के मरीज सामने आ रहे हैं.

स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने दिये हैं खास निर्देश
इसी कड़ी में बीते दिन यानी रविवार के दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली में डेंगू और मलेरिया को लेकर कई एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने रविवार को कहा है कि हमने स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ डीआईपी ( DIP) को स्कूलों और आम लोगों के बीच डेंगू और मच्छर जनित बीमारियों को लेकर अभियान चलाने का निर्देश दिया हैं. उन्होंने कहा कि अस्पतालों को डेंगू के मामलों के लिए तैयार किया जा रहा है. स्वास्थ्य मंत्री ने बताया था कि डेंगू को लेकर उनकी एमसीडी कमिश्नर से भी बात हुई है. बता दें, दिल्ली में डेंगू के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है. हालांकि प्रदेश की केजरीवाल सरकार ने मच्छरों की ब्रीडिंग रोकने के लिए सख्त कदम उठाया है.

स्कूलों और अफसरों को दिए गए हैं निर्देश
दिल्ली में मलेरिया और डेंगू के बढ़ते मामलों और बाढ़ के कारण इसके बढ़ने की संभावनाओं के बीच दिल्ली सरकार ने प्रदेश के स्कूलों में दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए है. स्कूलों में नवंबर महीने तक छात्रों को पूरी आस्तीन वाली स्कूल ड्रेस या पूरी आस्तीन वाले कपड़े पहनने को कहा गया है. साथ ही दिल्ली सरकार साफ सफाई को दिशा निर्देशों के पालन के लिए अफसरों का भी रोस्टर तैयार कर चुकी है. डेंगू और मलेरिया जैसी मच्छर जनित बीमारियों के लिए दिशा-निर्देश भी जारी किए गए हैं.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने की अहम बैठक
इधर,दिल्ली में बढ़ते डेंगू के खतरे को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीते शुक्रवार को अहम बैठक की थी. बैठक में उन्होंने डेंगू और अन्य मच्छर जनित बीमारियों को फैलने से रोकने के तरीकों पर चर्चा की थी. इस बैठक में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज और मेयर शैली ओबेरॉय ने भी हिस्सा लिया था. गौरतलब है कि दिल्ली में फिलहाल डेंगू एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है. 22 जुलाई तक दिल्ली में डेंगू के कुल 187 मामले सामने आए हैं. जबकि बीते एक सप्ताह में ही दिल्ली में डेंगू के 56 नये मामले सामने आये. यानी दिल्ली में डेंगू तेजी से फैल रहा है.

दिल्ली में खतरनाक स्ट्रेन का पता चला
दिल्ली में डेंगू को लेकर सरकार सतर्क है. मच्छर जनित बीमारी की रोकथाम के लिए दिल्ली सरकार और एमसीडी लगातार काम कर रहा है. बाढ़ से पानी के साथ आये गाद और जलजमाव के कारण फैली गंदगी की जोर-शोर से सफाई की जा रही है. वहीं, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग को अस्पतालों और मोहल्ला क्लीनिकों में डेंगू के मरीजों के लिए बिस्तर आरक्षित करने और दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है.

इस बीच खबर है कि दिल्ली में डेंगू के एक खतरनाक स्ट्रेन का पता चला है. दरअसल डेंगू वायरस के चार सीरोटाइप होते हैं, जिनमें DENV-1, DENV-2, DENV-3 और DENV-4 शामिल हैं. इसमें DENV-2 को सबसे ज्यादा गंभीर माना जाता है. दिल्ली में इसी स्ट्रेन होने का सबूत मिले हैं. बता दें, दिल्ली में डेंगू से संक्रमित 20 नमूनों का जीनोम अनुक्रमण किया गया था, जिनमें से 19 में गंभीर स्वरूप टाइप 2 (DENV-2) के होने का पता चला है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.