दिल्ली के नामी अस्पताल LNJP पर कोरोना पीड़ित ने लगाए गंभीर आरोप

0 140

लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल पर एक बुजुर्ग ने आरोप लगाया है कि कोरोना वायरस संक्रमित होने के बावजूद उन्हें तत्काल भर्ती नहीं किया गया।

दिल्ली न्यूज़ 24 रिपोर्टर(अमित लाल)। देश की राजधानी दिल्ली के नामी स्वास्थ्य संस्थान लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल पर एक बुजुर्ग ने आरोप लगाया है कि कोरोना वायरस संक्रमित होने के बावजूद उन्हें तत्काल भर्ती नहीं किया गया। उन्होंने यह भी दावा किया कि उनके साथ तीन और कोरोना पीड़ित तो जो अस्पताल में परेशान होते रहे, जबकि 7 मरीज अभी अपने घर पर ही हैं।

यहां पर बता दें कि पुरानी दिल्ली के चूडीवालान इलाके के रहने वाले एक ही परिवार के 12 लोग कोरोना से पीड़ित हो गए। इसमें दो माह का एक बच्चा भी शामिल है। उनमें से चार लोग बुधवार को खुद पैदल इलाज के लिए लोकनायक अस्पताल पहुंचे। उनका आरोप है कि दो घंटे से इंतजार के बाद भी उन्हें अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया। हालांकि यह मामला अस्पताल प्रशासन के संज्ञान में आने के बाद तीन बुजुर्ग लोगों व बच्चे को अस्पताल में भर्ती कर लिया गया।

776 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

वहीं अन्य मरीजों के बारे में मध्य दिल्ली जिले के सर्विलांस अधिकारी को सूचित कर दिया गया।अस्पताल का कहना है कि तय दिशा निर्देश के अनुसार इस अस्पताल में गंभीर मरीज ही भर्ती किए जाएंगे। तीन बुजुगरें को दूसरी बीमारी भी है। इसलिए उन्हें अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है। साथ ही दो माह के बच्चे को भी भर्ती कर लिया गया है। अन्य लोग कोविड आइसोलेशन सेंटर में भर्ती किए जाएंगे। पीड़ितों का आरोप है कि मंगलवार को उनकी कोरोना की जांच पॉजिटिव आई थी।

बता दें कि दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार ने राजधानी के कई अस्पतालों में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के इलाज का पुख्ता इंतजाम किया है। यहां तक कि ज्यादातर अस्पतालों की ओपीडी तक बंद तक उन्होंन Covid-19 अस्पताल में तब्लील कर दिया है। इस कड़ी में AIIMS के ट्रामा सेंटर को भी कोविड-19 अस्पताल में बदला गया है, जहां पर कोरोना मरीजों का इलाज हो रहा है।