दिल्ली में शीला सरकार के कामों को भुनाएगी कांग्रेस

कांग्रेस की कैंपेन टीम से जुड़े एक अहम सदस्य का कहना था कि इस पूरे प्रचार अभियान में हमारा जोर पॉजिटिव कैंपेन की तरफ रहेगा, जिसमें हम शीला सरकार में हुए दिल्ली के विकास कामों की लोगों को याद दिलाएंगे

0 177

नई दिल्ली। दिल्ली चुनावों में कांग्रेस ने शीला दीक्षित सरकार के 15 साल की उपलब्धियों को आगे कर मैदान में उतरने की योजना बनाई है। पूर्व सीएम शीला दीक्षित के कार्यकाल में दिल्ली में हुए विकास कार्य को आधार बनाते हुए कांग्रेस ने अपना चुनावी कैंपेन तैयार किया है, जिसकी थीम रखी गई है- ‘कांग्रेस वाली दिल्ली’।

सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस 13 जनवरी को कैम्पेन और 15 जनवरी को मेनिफेस्टो लॉन्च कर सकती है। इस दौरान वह बीजेपी की केंद्र सरकार व दिल्ली की आप सरकार के कामकाज पर भी निशाना साधेगी। कांग्रेस की कैंपेन टीम से जुड़े एक अहम सदस्य का कहना था कि इस पूरे प्रचार अभियान में हमारा जोर पॉजिटिव कैंपेन की तरफ रहेगा, जिसमें हम शीला सरकार में हुए दिल्ली के विकास कामों की लोगों को याद दिलाएंगे।

दरअसल पार्टी को लगता है कि शीला सरकार के जाने के बाद आज दिल्ली के लोग इस बात को बड़ी गंभीरता से महसूस कर रहे हैं कि दिल्ली का वास्तविक विकास कहीं रुक गया है। दिल्ली में जो भी विकास के काम हुए, वह शीला सरकार में ही हुए। इसलिए पार्टी अब उसी भावना को ध्यान में रखते हुए अपनी सरकार द्वारा किए गए कामों दिलाएगी।

कांग्रेस ने दिल्ली में ‘कांग्रेस वाली दिल्ली’ की थीम को 2019 लोकसभा के अपने चुनावी थीम ‘अब होगा न्याय’ के तर्ज पर उतारने का फैसला किया है। पार्टी के एक अहम सूत्र के मुताबिक, इस टीम के साथ अलग-अलग टैगलाइन को सामने रखते हुए पार्टी अपना कैंपेन उतारेगी। मसलन – ‘कांग्रेस वाली दिल्ली : खुशहाल दिल्ली’, ‘कांग्रेस वाली दिल्ली : हम सबकी दिल्ली’, ‘फिर से लाएंगे : कांग्रेस वाली दिल्ली’।

अपने इन विज्ञापनों में पार्टी बताएगी कि पिछले पंद्रह सालों में शीला सरकार ने दिल्ली के लिए क्या-क्या किया। कितने हॉस्पिटल खोलें, कितने फ्लाईओवर बनाए, कितने नए बस डिपो चालू किए। इतना ही नहीं, अपने इन विज्ञापनों में कांग्रेस अपने इन कामों की तुलना मौजूदा आप सरकार से भी करेगी।