तेलंगाना में कांग्रेस सरकार बनाने की ओर अग्रसर, रेवंत रेड्डी हो सकते हैं राज्य के दूसरे मुख्यमंत्री

4

कांग्रेस रविवार को तेलंगाना में विधानसभा चुनाव के बाद जारी मतगणना में पहली गैर-बीआरएस सरकार बनाने के लिए 60 सीटों का जादुई आंकड़ा हासिल करने की राह पर है. मई में कर्नाटक में विजयी होने के बाद, तेलंगाना 2023 में कांग्रेस की झोली में आने वाला दूसरा दक्षिणी राज्य बन जाएगा. निर्वाचन आयोग के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, सत्तारूढ़ भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) के खिलाफ लगभग अजेय बढ़त दर्ज करने के बाद, मल्लिकार्जुन खरगे के नेतृत्व वाली पार्टी ने 47 सीट जीतीं और अन्य 17 सीटों पर आगे है. बीआरएस ने अब तक 22 सीटों पर जीत दर्ज की है और 17 अन्य में आगे है. बीआरएस के निवर्तमान विधानसभा में 101 सदस्य हैं.

अपनी पार्टी के खराब प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री के चन्द्रशेखर राव ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया. तेलंगाना पुलिस ने कहा कि उसे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ए. रेवंत रेड्डी ने चार या नौ दिसंबर को शपथ ग्रहण समारोह के लिए सुरक्षा व्यवस्था करने के लिए कहा है. उन्होंने राष्ट्रीय पार्टी के पक्ष में लोगों के जनादेश का स्वागत किया, जबकि बीआरएस ने हैट्रिक सुनिश्चित करने में अपनी विफलता पर निराशा व्यक्त की.

केसीआर के नेतृत्व वाली बीआरएस ने 2014 में नवगठित तेलंगाना की पहली सरकार बनाई थी और 2018 में भी इस पार्टी ने जीत हासिल की थी. रेड्डी ने पत्रकारों से कहा कि यह जनता का जनादेश है. हमें पोस्टमॉर्टम की जरूरत नहीं है. सब कुछ ठीक रहा, तभी आपको वह जादुई नंबर मिला. सीधी बात यह है कि वे (लोग) बदलाव चाहते थे. वे केसीआर (मुख्यमंत्री राव) को हराना चाहते थे. उन्होंने केसीआर को हरा दिया है.

रेड्डी ने कहा कि लोगों ने विपक्ष की भूमिका तय कर दी है और कांग्रेस लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए बीआरएस के सहयोग की उम्मीद करती है. उन्होंने कहा कि राज्य में सरकार बनाने के बाद तेलंगाना के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करना पार्टी की जिम्मेदारी है. बीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष के टी रामाराव ने रविवार को कहा कि विधानसभा चुनाव के परिणाम ‘निराशाजनक’ हैं, लेकिन वह ‘दुखी’ नहीं हैं.

रामाराव ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर अपने पोस्ट में तेलंगाना में सरकार बनाने की ओर अग्रसर दिख रही कांग्रेस पार्टी को बधाई दी. उन्होंने लिखा है कि भारत राष्ट्र समिति को दो बार लगातार सरकार में आने का मौका देने के लिए तेलंगाना की जनता के आभारी हैं. आज के परिणाम से दुखी नहीं हूं, लेकिन निश्चित रूप से निराश हूं, क्योंकि हमें ऐसी अपेक्षा नहीं थी. लेकिन हम इसे सबक के तौर पर लेंगे और फिर से वापसी करेंगे.

बीआरएस नेता ने कहा कि जनादेश हासिल करने के लिए कांग्रेस पार्टी को बधाई! आपको शुभकामनाएं! निर्वाचन आयोग के नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक भाजपा ने छह सीट जीतकर और दो अन्य सीट पर बढ़त बनाकर अपनी स्थिति में सुधार किया है. आंकड़ों के अनुसार ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) ने पांच सीट जीत दर्ज की और दो पर आगे हैं. तेलंगाना में कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन का पार्टी कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाया. रेवंत रेड्डी के आवास और यहां पार्टी के राज्य मुख्यालय में खुशी का माहौल है. पार्टी कार्यालय ‘गांधी भवन’ में जश्न मनाया गया, जहां कार्यकर्ताओं को पटाखे जलाते और ‘‘जय कांग्रेस’’ और ‘‘रेवंत अन्ना जिंदाबाद’’ के नारे लगाते देखा गया.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.