क्या कर्नाटक में गिर जाएगी कांग्रेस सरकार ? पीएम मोदी से मिलने पहुंचे सीएम सिद्धरमैया ने जानें क्या कहा

4

कर्नाटक कांग्रेस में सबकुछ ठीक नहीं है क्या ? दरअसल, यह सवाल लोगों के मन में उठ रहा है. इन सवालों के बीच गुरुवार को कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने संसद पहुंचे. उन्होंने इस दौरान कहा कि कर्नाटक में सब ठीक है. मेरे और डीके शिवकुमार के बीच कोई मतभेद नहीं है, हम साथ हैं. इस मुलाकात के बीच एक तस्वीर और सामने आयी है जिसमें मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और रक्षा मंत्री एक साथ नजर आ रहे हैं.

आपको बता दें कि पिछले महीने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डी के शिवकुमार ने कहा था कि राज्य की कांग्रेस सरकार को गिराने की साजिश ‘बाहर’ रची गयी है. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा था कि हम भी देखेंगे. हमारे पास भी कुछ सूचना है. यह उनकी रणनीति है. बेंगलुरु में कुछ करने के बजाय, वे ये खेल बाहर ही कर रहे हैं. उपमुख्यमंत्री इस सवाल का जवाब दे रहे थे कि कर्नाटक सरकार को गिराने की (क्या) कोई साजिश रची जा रही है.

बीजेपी कर रही है सत्ता का दुरुपयोग

इस बीच कर्नाटक के राजस्व मंत्री कृष्णा बायरेगौड़ा ने शिवकुमार के दावे का समर्थन किया था. उन्होंने कहा था कि उसने (बीजेपी ने) कई निर्वाचित सरकारें गिरायी हैं. इस पृष्ठभूमि में हमें सावधान रहने की जरूरत है. बीजेपी को अच्छे -बुरे का अहसास नहीं है. उसने जो भी अलोकतांत्रिक गतिविधियां की हैं, वे सभी हमारे सामने हैं और उपमुख्यमंत्री का भी यही मतलब रहा होगा. उनके पास जरूरी कोई और सूचना हो सकती है. आगे राजस्व मंत्री ने दावा किया कि बीजेपी देशभर में लोगों द्वारा निर्वाचित सरकारों को गिराने का हमेशा प्रयास करती है.उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र में बीजेपी सत्ता का दुरुपयोग कर रही है.

कर्नाटक के कांग्रेस नेताओं के साथ आलाकमान की बैठक

इधर, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को पार्टी की कर्नाटक इकाई के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की. बताया जा रह है कि इस बैठक में अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा करने के साथ ही राज्य से कम से कम 20 लोकसभा सीट जीतने का लक्ष्य तय किया गया. सूत्रों ने बताया कि इस बैठक में राहुल गांधी ने यह कड़ा संदेश भी दिया कि कांग्रेस की सरकार में किसी तरह का कोई भ्रष्टाचार नहीं होना चाहिए. कांग्रेस नेता सुरजेवाला ने कहा कि पार्टी राज्य की कुल 28 लोकसभा सीटों में से कम से कम 20 सीट जीतने के लक्ष्य को लेकर काम करेगी, हालांकि प्रयास यह भी होगा कि सभी सीटों पर जीत दर्ज की जाये.

सिद्धरमैया ने मोदी से क्या कहा

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने बुधवार को कहा प्रदेश का शासन मॉडल पूरे देश के लिए जरूरी है. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा कि वह गारंटी योजनाओं का विरोध करने से पहले उनके बारे में अपना और बीजेपी का रुख स्पष्ट करें. केंद्र और बीजेपी शासित कुछ राज्यों में सरकार द्वारा घोषित कुछ ‘‘मुफ्त योजनाओं’’ पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने विरोधाभास के बारे में प्रधानमंत्री से सवाल किया.

विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की बड़ी जीत

आपको बता दें कि कर्नाटक की 224 सदस्यीय विधानसभा के नतीजे मई के महीने में आये थे. इस साल हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 135 सीटों पर जीत दर्ज की थी. वहीं, भाजपा को 66 सीटों पर संतोष करना पड़ा था. इस जीत के बाद कांग्रेस ने सरकार बनायी. सरकार बनाने के पहले सिद्धरमैया और डीके शिवकुमार के समर्थकों के बीच पोस्टर वार देखने को मिला था. हालांकि दोनों नेताओं को बैठाकर कांग्रेस ने संकट का हल निकाल लिया था. सिद्धरमैया को कांग्रेस ने सीएम पद दिया जबकि शिवकुमार को डिप्टी सीएम के पद पर बैठाया गया.

चुनाव के पहले कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने ऑपरेशन लोटस पर बात की थी. एक इंटरव्यू में खरगे ने कहा था कि हमें 150 सीट जीतना ही होगा. ऐसा इसलिए क्योंकि चुनाव परिणाम के बाद ऑपरेशन लोटस का खतरा परेशान ना करे. उन्होंने कहा था कि चुनाव परिणाम के बाद भाजपा तोड़-जोड़ की राजनीति करती है. जैसा उन्होंने मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में किया. भाजपा के पास पैसा और पुलिस दोनों है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.