Delhi: ‘शायद आपकी कोई मजबूरी रही होगी…’ एलजी के पत्र का सीएम केजरीवाल ने दिया यह जवाब

10

दिल्ली में अस्पतालों की खराब हालत वाले उपराज्यपाल वीके सक्सेना के पत्र का सीएम अरविंद केजरीवाल ने जवाब दिया है. सीएम केजरीवाल ने अपने पत्र में कहा है कि मैंने आपसे बार-बार इन दोनों नौकरशाहों के स्थान पर बेहतर अधिकारियों को नियुक्त करने का अनुरोध किया है क्योंकि ये बहुत ही महत्वपूर्ण विभाग हैं. सीएम केजरीवाल ने कहा कि मुझे यकीन है कि आपकी ओर से कुछ मजबूरी रही होगी जिसके कारण आप मुझसे कई बार वादा करने के बावजूद ऐसा करने में असमर्थ हैं. गौरतलब है कि दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने दिल्ली के अस्पतालों की खराब हालत की बात कहते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखा था. अपने पत्र में उन्होंने कहा था कि स्वास्थ्य विभाग के तहत अस्पतालों की दयनीय हालात को लेकर निराशा हुई.

अधिकारी नहीं मानते बात- सीएम केजरीवाल
वहीं, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपने जवाबी पत्र में कहा कि वरिष्ठ नौकरशाह सरकार का आदेश नहीं मान रहे हैं तो ऐसे में सरकार कैसे काम करेगी. सीएम केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने कहा कि मैंने पहले ही दो अधिकारी हेल्थ सेक्रेटरी और फाइनेंस सेक्रेटरी को हटाने के लिए कहा है. लेकिन अभी तक उन्हें नहीं हटाया गया है. केजरीवाल ने इस दोनों को हटाने की फिर से मांग की है. वहीं उपराज्यपाल ने जो रिपोर्ट मांगी है उसपर केजरीवाल ने कहा कि मैंने स्वास्थ्य मंत्री से इस बारे में रिपोर्ट मांगी है.

सीएम केजरीवाल को एलजी ने लिखा पत्र
गौरतलब है कि दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को लचर स्वास्थ्य व्यवस्था और सरकारी अस्पतालों की खस्ता हालत को लेकर एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने असपतालों की हालात पर रिपोर्ट भी मांगी है. दिल्ली के उप राज्यपाल ने अपने पत्र में दिल्ली के अस्पतालों में सुविधाएं नहीं होने का जिक्र किया है. साथ ही कहा है कि लापरवाही के कारण मरीजों की जान जा रही है. उन्होंने अस्पतालों की और स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने का निर्देश दिया है.

बीजेपी के खिलाफ केजरीवाल ने खोला मोर्चा
गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव से पहले दिल्ली में सियासत गरमाई हुई है. रविवार को दो सरकारी स्कूल की आधारशिला रखने के दौरान सीएम केजरीवाल ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला. केजरीवाल ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी की ओर से लगातार पार्टी में शामिल होने का दबाव डाला जा रहा है. केजरीवाल ने कहा कि लेकिन वो झुकेंगे नहीं और दिल्ली के विकास कार्य में भी लगे रहेंगे चाहे इसके लिए उन्हें जेल में ही क्यों न डाल दिया जाए.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.