अल-अक्सा मस्जिद में झड़प, 42 जख्मी

30

यरुसलम। यरुसलम स्थित अल-अक्शा मस्जिद परिसर में शुक्रवार को झड़प हो गई। इसमें 12 लोग जख्मी हो गए। यह जानकारी फलस्तीनी रेड क्रिसेंट ने दी। इसके बाद मौके पर पहुंची इजरायली सेना ने फलस्तीनियों को वहां से हटाया। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस घटना के लिए इजरायली सेना की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘इजरायली सेना द्वारा की गई हिंसा के खिलाफ हम फलस्तीनी लोगों के साथ एकजुटता प्रकट करत हैं। हर रमजान के वक्त अल अक्सा मस्जिद में इजरायली सेना हिंसा को अंजाम देती है।’

यरुसलम के अल अक्सा मस्जिद में फलस्तीन व इजरायली पुलिस के बीच शुक्रवार को झड़प हो गई जिसमें 42 लोग जख्मी हैं। यह जानकारी फलस्तीनी रेड क्रिसेंट ने दी। रेड क्रिसेंट के अनुसार घायलों में से 22 लोगों को अस्पताल ले जाया गया। इजरायल पुलिस के अनुसार प्रदर्शनकारियों के पथराव के तुरंत बाद परिसर में पहुंच सेना ने हालात पर काबू किया।

पुलिस ने बताया कि पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही पुलिस ने बताया कि इससे पहले कुछ नहीं था, मस्जिद में शांति पूर्ण तरीके से श्रद्धालु पहुंच रहे थे। पिछले दो सप्ताह में करीब 300 फलस्तीनी अल अक्सा के परिसर में ही जख्मी हो गए। यह मस्जिद मुस्लमानों के लिए तीसरा पवित्र स्थल है। यह यहुदियों के लिए भी पवित्र स्थान है वे इसे टेंपल माउंट के नाम से बुलाते हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.