‘भारत में घुसी चीनी सेना, जमीन पर किया कब्जा’, पैंगोंग पहुंचे राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बोला हमला

11

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और लोकसभा सांसद राहुल गांधी ने चीन को लेकर एक और बड़ा बयान दे दिया है. लद्दाख दौरे पर पहुंचे राहुल गांधी ने आरोप लगाया है कि चीनी सेना भारत के अंदर घुस गयी और जमीन पर कब्जा कर लिया है.

चीन को लेकर पीएम मोदी ने दी गलत जानकारी : राहुल गांधी

देश के पूर्व प्रधानमंत्री और पिता राजीव गांधी को श्रद्धांजलि देने के बाद मीडिया के साथ बातचीत में राहुल गांधी ने कहा, यहां चिंता की बात यह है कि चीन ने जमीन छीन ली है. लोगों का कहना है कि चीन की सेना इलाके में घुस आई है और उनकी चरागाह जमीन छीन ली गई है, लेकिन PM मोदी ने कहा कि एक इंच भी जमीन नहीं छीनी गई, लेकिन ये सच नहीं है, आप यहां किसी से भी पूछ सकते हैं. राहुल गांधी ने बताया, भारत जोड़ो यात्रा के दौरान उन्हें लद्दाख आना था, लेकिन कुछ कारणों से दौरा नहीं कर पाये थे, इसलिए इस बार वो यहां आये हैं और पूरे क्षेत्र का भ्रमण कर रहे हैं.

लद्दाख के लोग खुश नहीं : राहुल गांधी

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, लद्दाख के लोगों की बहुत सारी शिकायतें हैं, वे उस दर्जे से खुश नहीं हैं जो उन्हें दिया गया है, वे प्रतिनिधित्व चाहते हैं और बेरोजगारी की समस्या है…लोग कह रहे हैं कि राज्य को नौकरशाही से नहीं बल्कि जनता की आवाज से चलना चाहिए.

चीन के साथ बातचीत चल रही है, राहुल गांधी को ऐसे बयान से बचना चाहिए : संजय कुलकर्णी

राहुल गांधी के बयान पर रक्षा विशेषज्ञ संजय कुलकर्णी ने कहा, चीन के साथ भारत की वार्ता चल रही है. तो ऐसे बयान देना गलत होगा और जब बातचीत चल रही हो तो किसी को भी बयान नहीं देना चाहिए. हालांकि, 1950 के बाद से हमने चीन के हाथों लगभग 40,000 वर्ग किमी खो दिया है और हमारा प्रयास है कि हम अपना और क्षेत्र चीन के हाथों न खोएं.

राहुल गांधी अगर कुछ कहते हैं तो सोच-समझकर कहते हैं: संजय राउत

शिवसेना (यूबीटी) नेता संजय राउत ने कहा, राहुल गांधी अगर कुछ कहते हैं तो सोच-समझकर कहते हैं. चीन ने भारत की जमीन पर कब्जा कर लिया है और इसके सबूत भी सामने आए हैं. अगर रक्षा मंत्री और प्रधानमंत्री इसे स्वीकार नहीं करते हैं तो लगता है कि यह भारत माता के साथ नाइंसाफी है.

राहुल गांधी ने पिता और पूर्व पीएम राजीव गांधी को दी श्रद्धांजलि

कांग्रेस सांसद और पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने लद्दाख में 12470 फीट की ऊंचाई पर अपने पिता राजीव गांधी को श्रद्धांजलि दी है. इसको लेकर पैंगोंग त्सो के तट पर खास तैयारी की गयी थी.

राहुल गांधी ने लेह से पैंगोंग झील तक मोटरसाइकिल की सवारी की

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने अपने पिता राजीव गांधी की जयंती की पूर्व संध्या पर शनिवार को केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में लेह से पैंगोंग झील तक मोटरसाइकिल की सवारी की. राहुल गांधी ने मोटरसाइकिल पर 130 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय. राहुल गांधी ने लेह से पैंगोंग तक अपने मोटरसाइकिल सफर की कई तस्वीरें अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर इस शीर्षक के साथ साझा कीं, पैंगोंग झील जाने के रास्ते में, जिसके बारे में मेरे पिता कहा करते थे, यह दुनिया की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी वर्तमान में लद्दाख के दौरे पर हैं. यह अगस्त 2019 में जम्मू कश्मीर को दो हिस्सों में बांटने और जम्मू कश्मीर एवं लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने के बाद इस क्षेत्र का उनका पहला दौरा है. तत्कालीन जम्मू कश्मीर राज्य को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया था और संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत इसके विशेष दर्जे को रद्द कर दिया गया था.

करगिल दौरा करेंगे राहुल गांधी

राहुल गांधी ने दो स्थानीय क्लब के बीच फुटबॉल मैच देखने के अलावा पार्टी सहयोगियों के साथ बैठक की और युवाओं से बातचीत की. कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि गांधी सोमवार या मंगलवार को करगिल जिले का दौरा करेंगे और उनके वहां पार्टी कार्यकर्ताओं और लोगों, विशेषकर युवाओं से बातचीत करने की संभावना है. गांधी की जिले की यात्रा इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि एलएएचडीसी, करगिल में 10 सितंबर को चुनाव होने जा रहे हैं. नेशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस ने पहले ही पर्वतीय परिषद चुनाव के लिए चुनाव पूर्व गठबंधन की घोषणा कर दी है.

केंद्रीय मंत्रियों ने मोदी सरकार में हुए लद्दाख के विकास पर ध्यान आकर्षित करने पर राहुल की सराहना की

राहुल गांधी द्वारा लद्दाख में मोटरसाइकिल की सवारी करती हुई अपनी तस्वीरें पोस्ट किए जाने के बाद केन्द्रीय मंत्री किरेन रीजीजू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हिमालयी क्षेत्र में बनी अच्छी सड़कों का प्रचार करने के लिए शनिवार को कांग्रेस नेता की सराहना की. रीजीजू ने ‘एक्स’ पर एक वीडियो पोस्ट कर उसके 2012 का होने का दावा किया. इस वीडियो में लद्दाख के पैंगोंग सो जाने वाले वाहन (एसयूवी) को रोड़ों और बड़े-बड़े पत्थरों से भरी अस्थाई सड़क पर चलते हुए देखा जा सकता है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.