त्रिपुरा: ‘घूरती रथयात्रा’ के दौरान हाई-वोल्टेज तार के संपर्क में आया रथ, 6 लोगों की मौत, 15 घायल

50

त्रिपुरा के उनाकोटी जिले में बुधवार शाम एक रथ हाई-टेंशन तार के संपर्क में आने के बाद आग की लपटों में घिर गया, जिससे छह लोगों की मौत हो गई और 15 अन्य घायल हो गए. पुलिस ने यह जानकारी दी. यह घटना भगवान जगन्नाथ के ‘घूरती रथ यात्रा’ उत्सव के दौरान कुमारघाट इलाके में शाम करीब 4.30 बजे हुई.

133kv ओवरहेड केबल से संपर्क में आया रथ 

यह त्यौहार रथ यात्रा के एक सप्ताह बाद, भाई-बहनों – भगवान बलभद्र, देवी सुभद्रा और भगवान जगन्नाथ – की उनके पवित्र निवास में वापसी का प्रतीक है. उत्सव के दौरान, बड़ी संख्या में लोग उत्साहपूर्वक ‘रथ’ को खींच रहे थे, जिसका निर्माण लोहे से किया गया था. पुलिस ने बताया कि जुलूस के दौरान ‘रथ’ गलती से 133kv ओवरहेड केबल से संपर्क में आ गया.

छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और 15 अन्य झुलस गए

सहायक महानिरीक्षक (कानून एवं व्यवस्था) ज्योतिषमान दास चौधरी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और 15 अन्य झुलस गए. उन्होंने बताया कि घायलों का नजदीकी अस्पताल में इलाज चल रहा है. अधिकारियों ने कहा कि उनकी हालत गंभीर बताई गई है.

मुख्यमंत्री माणिक साहा ने जताया शोक

वहीं मुख्यमंत्री माणिक साहा ने मौतों पर शोक व्यक्त करते हुए कहा. “कुमारघाट पर एक दुखद दुर्घटना में, कई तीर्थयात्रियों की जान चली गई और ‘उल्टा रथ’ खींचते समय करंट लगने से कई अन्य घायल हो गए. मैं इस घटना से बहुत दुखी हूं. शोक संतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना. साथ ही, मैं घायलों के लिए कामना करता हूं. लोग शीघ्र स्वस्थ हो जाएं. राज्य सरकार इस कठिन समय में उनके साथ खड़ी है.”

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.