CBSE ने सभी स्कूलों के प्रधानाचार्यों को पत्र लिखकर कहा, शिक्षकों का डाटा अपडेट न किया तो लगेगा 50 हजार का जुर्माना

0 11


वैसे तो सीबीएसई बोर्ड की ओर से अधिकतर फैसले शिक्षकों व छात्रों के हित में ही लिए जाते हैं। हालांकि शिक्षकों का डाटा समय से अपडेट न होने के चलते बोर्ड अफसर काफी नाराज हैं। अब बोर्ड ने सभी स्कूलों को प्रधानाचार्यों को पत्र जारी कर कहा है, कि 11 अप्रैल तक बोर्ड के ऑनलाइन पोर्टल-ऑनलाइन एफिलिएटेड स्कूल इंफोर्मेशन सिस्टम (ओएएसआइएस) सभी शिक्षकों का डाटा अपडेट किया जाए। अगर किसी स्कूल की ओर से तय समय पर डाटा अपडेट नहीं किया जाता है तो स्कूल के प्रधानाचार्य पर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगेगा। इसके अलावा जिस स्कूल की ओर से लापरवाही बरती जाएगी, उसका बोर्ड रिजल्ट भी जारी नहीं किया जाएगा। सीबीएसई स्कूलों के प्रधानाचार्यों का कहना है, कि ऐसा आदेश इसलिए जारी हुआ है क्योंकि कई स्कूलों ने कई वर्षों से शिक्षकों का डाटा अपडेट नहीं किया है।

बोर्ड की ओर से दोबारा कराए जाएंगे प्रैक्टिकल : सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक डॉ.संयम भारद्वाज की ओर से जारी इस सर्कुलर में यह भी कहा गया, कि स्कूलों को 10वीं व 12वीं के छात्रों के प्रैक्टिकल आंतरिक परीक्षक से ही कराने होंगे। बोर्ड की ओर से कोई परीक्षक नहीं भेजा जाएगा। वहीं अगर किसी स्कूल में प्रैक्टिकल की कोई शिकायत बोर्ड को मिलती है तो उस स्कूल में प्रैक्टिकल दोबारा कराए जाएंगे।


इनका ये है कहना

सभी प्रधानाचार्य जल्द से जल्द बोर्ड के ऑनलाइन पोर्टल पर शिक्षकों का डाटा अपडेट कर दें। सभी शिक्षकों की सूची भी भेज दें। ताकि जुर्माने से बचा जा सके।