CSE Resumption: निवेशकों के लिए खुशखबरी! जल्द शुरू होगा Calcutta Stock Exchange, सामने आया ये बड़ा अपडेट

42

1908 में स्थापित हुआ था कलकत्ता स्टॉक एक्सचेंज

कोलकाता स्टॉक एक्सचेंज की स्थापना 1908 में की गयी थी. यह भारत में स्थापित सबसे पुराने स्टॉक एक्सचेंजों में से एक था. इसका मुख्यालय कोलकाता, पश्चिम बंगाल में स्थित था. कोलकाता स्टॉक एक्सचेंज ने शेयर बाजार में सुरक्षित और न्यायसंगत व्यापार को प्रोत्साहित करने के लिए अपने नियमों और विनियमों को स्थापित किया था. इसने अपने सदस्यों को एक सुरक्षित और विश्वसनीय व्यापार परियावरण प्रदान करने का प्रयास किया था. कोलकाता स्टॉक एक्सचेंज का बंद हो जाना एक संकेत है कि भारतीय स्टॉक बाजार में कुछ संबद्धता और संरचनात्मक बदलाव हुआ है. 2013 में इसे सेबी के आदेश के बाद, बंद करके बीएसई और निफ्टी में मर्ज कर दिया गया था. इसका अर्थ है कि कलकत्ता स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड कंपनियां और निवेशक अभी भी अपना व्यापार कर रहे हैं. उन्हें व्यापार करने के लिए Bombay Stock Exchange और NIFTY अपने प्लेटफॉर्म देती है. हालांकि, कलकत्ता स्टॉक एक्सचेंज के शुरू हो जाने से निवेशकों और कंपनियों को बड़ी सहुलित होने की संभावना है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.