BLS e-Services IPO: बाजार में आ रहा इस डिजिटल सेवा कंपनी का आईपीओ, लॉन्चिंग के पहले रॉकेट की तरह बढ़ रहा GMP

4

BLS e-Services IPO: अगर आप इस सप्ताह आईपीओ में पैसा लगाने का विचार कर रहे हैं तो आपके लिए एक बेहतरीन मौका है. प्रौद्योगिकी आधारित सेवा प्रदान करने वाली बीएलएस ई-सर्विसेज लिमिटेड के आईपीओ के लिए आवेदन की प्रक्रिया 30 जनवरी से शुरू हो रही है, जो एक फरवरी को खत्म होगी. कंपनी ने अपने आईपीओ के लिए कीमत दायरा 129-135 रुपये प्रति शेयर तय किया है.

  • कंपनी ने एक विज्ञप्ति में कहा कि यह निर्गम आवेदन के लिए 30 जनवरी को खुलेगा और एक फरवरी, 2024 को बंद होगा.

  • कंपनी आईपीओ के तहत 2.3 करोड़ इक्विटी शेयरों की पेशकश कर रही है. इसमें आईपीओ से पहले आवंटित होने वाला शेयर शामिल नहीं है.

  • एंकर निवेशक 29 जनवरी को बोली लगा सकेंगे.

कंपनी आईपीओ के जरिये जुटायी गयी राशि का उपयोग नई क्षमताओं को विकसित करने और अपने मौजूदा मंचों को मजबूत करने के लिए प्रौद्योगिकी बुनियादी ढांचे को सुदृढ़ करने में करेगी. इसके अलावा बीएलएस स्टोर स्थापित तथा अधिग्रहण कर विस्तार करेगी और सामान्य कंपनी उद्देश्यों के लिए भी राशि का उपयोग करेगी.

क्या करती है बीएलएस-ई सर्विसेज लिमिटेड

बीएलएस-ई सर्विसेज लिमिटेड एक डिजिटल सेवा प्रदाता है जो भारत में जमीनी स्तर पर सहायक ई-सेवाएं, ई-गवर्नेंस सेवाएं और देश के प्रमुख बैंकों को बिजनेस कॉरेस्पोंडेंस सेवाएं प्रदान करता है. व्यवसाय संवाददाता सेवाएं, सहायता प्राप्त ई-सेवाएं और ई-सरकारी सेवा पर फोकस के तीन क्षेत्र हैं. अप्रैल 2016 में निगमित, बीएलएस-ई सर्विसेज लिमिटेड एक डिजिटल सेवा प्रदाता है जो भारत में प्रमुख बैंकों को बिजनेस कॉरेस्पोंडेंस सेवाएं, सहायक ई-सेवाएं और भारत में जमीनी स्तर पर ई-गवर्नेंस सेवाएं प्रदान करता है. कंपनी बीएलएस इंटरनेशनल सर्विसेज लिमिटेड की सहायक कंपनी होने के नाते अपने प्रौद्योगिकी-सक्षम प्लेटफॉर्म के माध्यम से एशिया, अफ्रीका, यूरोप, दक्षिण अमेरिका, उत्तरी अमेरिका और मध्य पूर्व में राज्य और प्रांतीय सरकारों को वीजा, पासपोर्ट, कांसुलर और अन्य नागरिक सेवाएं प्रदान करती है. यह भारत में इस डोमेन में लगी एकमात्र सूचीबद्ध कंपनी है.

बेहतर काम कर रही है कंपनी

कंपनी के रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2023 में कंपनी के परिचालन से राजस्व ₹15,617.88 लाख, साल 2022 में ₹24,306.07 लाख और साल 2021 में ₹9,669.82 लाख रुपये था. कंपनी ने कहा कि ऐसा ज्यादातर बीसी और बीएलएस टचप्वाइंट के माध्यम से दी जाने वाली सेवाओं के विस्तार के कारण हुआ. 30 सितंबर, 2023 तक, कंपनी ने भारत के अधिकांश जिलों में बीएलएस टचप्वाइंट संचालित किए। 30 सितंबर, 2023 तक और पिछले तीन वित्तीय वर्षों के दौरान, 96,162 नए व्यापारी नेटवर्क में शामिल हुए हैं. कंपनी का लक्ष्य डिजिटल प्लेटफॉर्म और वित्त सहित कई उद्योग क्षेत्रों के लिए खुद को गो टू मार्केट प्लेटफॉर्म के रूप में स्थापित करना है.

क्या है कंपनी का GMP

इन्वेस्टरगेन.कॉम के अनुसार, पिछले चार सत्रों के आधार पर, ग्रे मार्केट में आज आईपीओ जीएमपी ऊपर की ओर इशारा कर रहा है. कंपनी के शेयरों की एक मजबूत लिस्टिंग की उम्मीद कर रहा है. न्यूनतम GMP ₹60 है, जबकि उच्चतम GMP ₹142 है. मंगलवार को, जीएमपी ₹60 थी, और बुधवार के सत्र में यह बढ़कर ₹110 हो गई.

बीएलएस ई-सर्विसेज आईपीओ की Important Date

बीएलएस ई-सर्विसेज आईपीओ के शेयरों की लिस्टिंग शुक्रवार, 2 फरवरी को होगी. कंपनी सोमवार, 5 फरवरी को रिफंड शुरू करेगी, जबकि शेयर उसी दिन आवंटियों के डीमैट खाते में जमा किए जाएंगे. बीएलएस ई-सर्विसेज के शेयर मंगलवार, 6 फरवरी को बीएसई और एनएसई पर सूचीबद्ध होने की संभावना है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.