BJP Meeting: ‘ऐसा दिशाहीन विपक्ष आजतक नहीं देखा’, BJP संसदीय दल की बैठक में बरसे पीएम मोदी

12

मणिपुर मामले को लेकर संसद में लगातार हंगामा जारी है. इस बीच बीजेपी संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी पार्टियों पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ऐसा दिशाहीन विपक्ष उन्होंने आजतक नहीं देखा.

विपक्ष बिखरा हुआ और हताश है : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, विपक्ष आज पूरी तरह से बिखरा हुआ और हताश है. पीएम ने विपक्षी पार्टियों के नये गठबंधन के नाम I-N-D-I-A पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘इंडिया’ नाम रख लेने से कुछ नहीं होता. ईस्ट इंडिया कंपनी ने भी अपने नाम में इंडिया जोड़ा था. इंडियन मुजाहिदीन के नाम में इंडिया है. मालूम हो 26 विपक्षी पार्टियों ने 2024 लोकसभा चुनाव में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ नये संगठन I-N-D-I-A ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) बनाया है.

मणिपुर मामले को लेकर संसद में विपक्ष का हंगामा, कार्यवाही बाधित

मणिपुर में पिछले दिनों दो महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने का वीडियो सामने आया था. इसी मसले को लेकर विपक्षी पार्टियां संसद में लगातार हंगामा कर रही हैं. जिस कारण से सदन की कार्यवाही लगातार बाधित हो रही है. संसद के मानसून सत्र में मंगलवार को लगातार चौथे दिन लोकसभा में विपक्षी दलों ने मणिपुर हिंसा के मुद्दे पर भारी हंगामा किया. विपक्षी सदस्यों की नारेबाजी के कारण निचले सदन की कार्यवाही शुरू होने के कुछ मिनटों के भीतर ही स्थगित कर दी गई. सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होने पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने जैसे ही प्रश्नकाल शुरू करने को कहा, उसी समय कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस सहित कुछ विपक्षी दलों के सदस्य मणिपुर के मुद्दे को उठाने लगे और नारेबाजी करने लगे. उन्होंने ‘जवाब दो-जवाब दो’ और ‘प्रधानमंत्री सदन में आओ’ के नारे लगाए.

लोकसभा अध्यक्ष ने सदन चलने देने की अपील की

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विपक्षी सदस्यों से नारेबाजी बंद कर सदन चलने देने की अपील की. उन्होंने कहा, क्या आप सदन नहीं चलाना चाहते? प्रश्नकाल महत्वपूर्ण समय होता है. आपसे आग्रह है कि सदन को चलाएं, सरकार की जवाबदेही तय करें. हम दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र हैं. आप लोग रोजाना नारेबाजी क्या करते रहते हैं. बिरला ने कहा, आप अपने अपने स्थान पर जाएं. आपको हर मुद्दे पर पर्याप्त समय दूंगा. संसद की गरिमा को बनाए रखें. उन्होंने कहा कि सदन में रोजाना तख्तियां लाना संसद की परंपराओं के अनुरूप नहीं है.

मणिपुर मामले पर पीएम मोदी के बयान पर अड़ा विपक्ष

विपक्षी दल मानसून सत्र के पहले दिन से ही मणिपुर के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से संसद के भीतर वक्तव्य देने और विस्तृत चर्चा की मांग कर रहे है.। इस मुद्दे पर हंगामे के कारण संसद के मानसून सत्र के पहले तीन दिन दोनों सदन की कार्यवाही बार-बार बाधित हुई थी. मणिपुर के मुद्दे पर संसद में जारी गतिरोध के बीच गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को लोकसभा में कहा था कि सरकार इस बेहद संवेदनशील मुद्दे पर चर्चा को तैयार है और विपक्ष से आग्रह है कि वह चर्चा होने दे और सच्चाई सामने आने दे.

बीजेपी सांसदों ने विपक्ष पर निशाना साधा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा बीजेपी के कई दिग्गज सांसदों ने भी विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधा. बीजेपी सांसद मनोज तिवारी का कहना है, विपक्ष संसद में चर्चा नहीं करना चाहते हैं. अपने नाम में I.N.D.I.A का इस्तेमाल करके उन्होंने दिखाया है कि यूपीए और कांग्रेस जैसे नामों के प्रति उनकी नापसंदगी है. संजय सिंह के निलंबन पर उन्होंने कहा, वह (संजय सिंह) उच्च सदन में पहुंच गए हैं लेकिन उनका व्यवहार ‘सड़क का लफंगा’ जैसा है, उन्हें संसद के अंदर नियमों का पालन करना चाहिए. इधर केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा, विपक्षी दल मणिपुर मामले पर चर्चा नहीं करना चाहते. सदन में सब चर्चा के लिए आते हैं लेकिन कांग्रेस और इनके कुछ साथियों को चर्चा और बहस करने में कोई दिलचस्पी ही नहीं है. भाजपा सांसद रविशंकर प्रसाद ने कहा, विपक्ष मान चुके हैं कि उन्हें सत्ता में नहीं आना. पीएम ने एक टिप्पणी की है कि इंडियन नेशनल कांग्रेस अंग्रेज ने बनाया था. ईस्ट इंडिया कंपनी भी अंग्रेजों ने बनाया था. आज कल लोग इंडियन मुजाहिद्दीन भी नाम रखते हैं, इंडियन पीपुल्स फ्रंट भी नाम रखते हैं.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.