‘स्वार्थ का गठबंधन, निशाने पर हिंदुस्तान’, विपक्ष के महाजुटान पर बीजेपी का हमला

10

2024 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर बिहार की राजधानी पटना में हुई विपक्षी दलों बैठक के बाद देश की राजनीति में एक बार फिर उबाल आ गया है. जहां लगभग 17 विपक्षी दल अरसे बाद बीजेपी के खिलाफ लामबंद होते हुए नजर आए वहीं बीजेपी भी इस हालात भांपते हुए विपक्ष के इस गठबंधन पर जोरदार हमला बोलना शुरु कर दिया है.

स्वार्थ का गठबंधन, निशाने पर हिंदुस्तान- स्मृति ईरानी 

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने विपक्ष की बैठक पर निशाना साधते हुए कहा- स्वार्थ का गठबंधन, निशाने पर हिंदुस्तान. वह राजनीतिक दल जो एक दूसरे को फूटी आंख नहीं सुहाते थे, एकत्रित हुए एक ऐसे संकल्प के साथ जो भारत को आर्थिक प्रगति से वंचित करता है… यह राजनीतिक दल जब भी एक साथ आए तब भ्रष्टाचार, परिवारवाद लाए और राष्ट्र की आर्थिक प्रगति को संकुचित करने का अपने संग आरोप लेकर आए.

पटना में दिखी विपक्ष की ताकत

आपको बताएं, पटना में लगभग 17 विपक्षी दल मजबूती के साथ एक मंच पर नजर आए. बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल-यूनाइटेड नेता नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि विपक्षी दलों की पटना में एक “अच्छी बैठक” हुई और साथ मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला किया गया है. विपक्षी दलों की मेगा बैठक बुलाने वाले कुमार ने कहा कि जल्द ही विपक्षी दलों की एक और बैठक होगी. संभवतः ये बैठक 10 या 12 जुलाई को शिमला में आयोजित की जाएगी.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.