बिपरजॉय से हुए नुकसान का जायजा लेंगे केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह, प्रभावित इलाकों की करेंगे समीक्षा

5

Biporjoy Cyclone: चक्रवाती तूफान बिपरजॉय के कारण गुजरात में भयंकर तबाही मची है. तूफान बिपारजॉय के कारण तेज हवाएं चलने और भारी बारिश होने से गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र के इलाकों में बिजली के सैंकड़ों खंभे क्षतिग्रस्त हो गए और 1000 से अधिक गांवों में अब भी बिजली नहीं है. चक्रवात के कारण 140 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार से हवाएं चलीं और भारी बारिश से बड़ी संख्या में पेड़ तथा बिजली के खंभे उखड़ गए और समुद्र का पानी निचले इलाके के गांवों में भर गया. तबाही का जायजा लेने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज कच्छ का दौरा करने वाले हैं.

अमित शाह लेंगे नुकसान का जायजा
अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान बिपरजॉय से गुजरात के कच्छ में सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचा है. नुकसान का जायजा लेने आज गृह मंत्री अमित शाह कच्छ पहुंच रहे हैं. अमित शाह प्रदेश के सीएम के साथ प्रभावित इलाके का दौरा करेंगे. इस दौरान उम्मीद की जा रही है कि शाह तूफान प्रभावित लोगों से मुलाकात भी कर सकते हैं. इसके बाद वह कच्छ में हुए नुकसान का जायजा लेंगे. अमित शाह हवाई सर्वेक्षण करेंगे या नहीं यह साफ नहीं हुआ है. मौसम की स्थिति देखकर यह तय किया जाएगा.

गौरतलब है कि गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र क्षेत्रों में भारी तबाही मचाने के बाद फिलहाल चक्रवात बिपारजॉय काफी कमजोर पड़ गया है. शुक्रवार को ही यह तूफान दक्षिण राजस्थान की ओर बढ़ गया था. वहीं, तूफान के कारण हजार से ज्यादा घरों की बत्ती गुल हो गई है. बिजली आपूर्ति बहाल करने के लिए कच्छ, देवभूमि द्वारका, जामनगर, मोरबी, जूनागढ़, गिर सोमनाथ, राजकोट और पोरबंदर जिलों में 1,127 टीम काम कर रही हैं. वहीं वन विभाग ने सड़कों पर गिरे 580 से ज्यादा पेड़ों को हटा दिया है. बता दें, चक्रवाती तूफान बिपारजॉय से राज्य में किसी व्यक्ति की जान जाने की सूचना नहीं है.

आज भी भारी बारिश
गौरतलब है कि चक्रवाती तूफान से राज्य की बिजली कंपनी की भारी नुकसान पहुंचा है. तूफान के कारण बिजली के 5120 खंभे क्षतिग्रस्त हो गए हैं. उन्होंने कहा कि कम से कम 4600 गांवों में बाधित हो गई थी. हालांकि 3580 गांवों में बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई है.

वहीं, स्काईमेट वेदर के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर भारत, गुजरात के कच्छ क्षेत्र और दक्षिण राजस्थान में मध्यम से भारी बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है. दक्षिण-पूर्व राजस्थान, गुजरात क्षेत्र, कोंकण और गोवा और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल में हल्की से मध्यम बारिश संभव है.
भाषा इनपुट से साभार

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.