‘देश में राम की लहर नहीं’, प्राण-प्रतिष्ठा पर बोले राहुल गांधी, FIR पर हिमंत बिस्वा सरमा पर भी बोला हमला

5

असम में कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा पर बवाल जारी है. मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने सांसद राहुल गांधी पर FIR दर्ज करने का निर्देश दिया है. इधर निर्देश पर राहुल गांधी ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, असम में उनकी ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ में अवरोध पैदा करने का जितना प्रयास किया जा रहा है उससे उनकी यात्रा को उतना ही प्रचार मिल रहा है. राहुल गांधी ने राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा के बाद बनी स्थिति पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा, देश में कोई राम की लहर नहीं है.

धमकाने वाले कदमों से वह डरने वाले नहीं: राहुल गांधी

असम में कुछ जगहों पर यात्रा में अवरोध से जुड़े सवाल पर उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा, असम के मुख्यमंत्री जो कर रहे हैं, उससे यात्रा को फायदा हो रहा है. जो प्रचार हमें नहीं मिलता, वो मिल रहा है. उसमें असम के मुख्यमंत्री और शायद उनके पीछे अमित शाह हमारी मदद कर रहे हैं. असम में आज मुख्य मुद्दा यात्रा बन गया है. उन्होंने इस बात पर जोर दिया, हम इनसे डरते नहीं है. हमारा संदेश गांव-गांव में जा रहा है.

अयोध्या में प्रधानमंत्री ने ‘शो’ किया, मंदिर के नाम पर लहर नहीं: राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि राम मंदिर के नाम पर लहर नहीं है. अयोध्या में सोमवार को जो हुआ वह एक राजनीतिक कार्यक्रम था जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘शो’ किया. यह पूछे जाने पर कि राम लहर का मुकाबला करने के लिए उनके पास क्या योजना है, तो कांग्रेस नेता ने कहा, ‘ऐसी कोई बात नहीं है कि लहर है. यह भाजपा का राजनीतिक कार्यक्रम था.

असम के मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर राहुल पर एफआईआर दर्ज करने का दिया था निर्देश

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर राहुल गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया था. उन्होंने ट्वीट किया और लिखा, मैंने असम पुलिस के DGP को भीड़ को उकसाने के लिए राहुल गांधी के खिलाफ मामला दर्ज करने और आपके द्वारा अपने हैंडल पर पोस्ट किए गए फुटेज को सबूत के रूप में इस्तेमाल करने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री ने कहा, यह असम की संस्कृति का हिस्सा नहीं है. हम एक शांतिपूर्ण राज्य हैं. इस तरह के नक्सलवादी हथकंडे हमारी संस्कृति से बिल्कुल विपरीत हैं. शर्मा ने कहा, आपके गैरजिम्मेदाराना आचरण और दिशा-निर्देशों के उल्लंघन की वजह से अब गुवाहाटी की सड़कों पर भारी जाम लग गया.

न्याय यात्रा के पीछे न्याय का आइडिया और उसमें हमारे पांच स्तंभ हैं, जो देश को शक्ति देंगे : राहुल गांधी

देश को मजबूत बनाने के लिए ‘पांच न्याय’ की योजना हमारे पास है. यह हम आपके सामने रखेंगे. राहुल गांधी ने कहा, इस यात्रा के पीछे न्याय का विचार है. इसमें न्याय के पांच स्तंभ हैं- युवा न्याय, भागीदारी, नारी न्याय, किसान न्याय और श्रमिक के लिए न्याय. ये पांच स्तंभ देश को शक्ति देंगे. कांग्रेस अगले एक-डेढ़ महीने में इन्हें जनता के सामने रखेगी.

1. युवा न्याय

2. भागीदारी

3. नारी न्याय

4. किसान न्याय

5. श्रमिक के लिए न्याय

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.