Assam Flood: बाढ़ की वजह से 5 लाख लोग प्रभावित, आसमान छू रहे सब्जियों के दाम

11

Assam Flood: असम इस समय काफी बुरे बाढ़ की स्थिति से जूझ रहा है. बाढ़ की वजह से 19 जिलों में रह रहे करीबन 5 लाख लोग प्रभावित हो गए हैं. सामने आयी जानकारी के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान यहां 2 व्यक्ति की डूबने से मौत हो गयी है. असम में आयी बाढ़ का असर कई तरह की चीजों पर दिखाई दे रहा है. असम स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट की एक रिपोर्ट के अनुसार बाढ़ की वजह से सिर्फ बाजाली जिले में रहे वाले ढाई लाख लोग बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं. वहीं, बात करें अन्य जिलों की तो नलबाड़ी में 80061, बारपेटा में 73233, लखीमपुर में 22577, दारंग में 14583, तामुलपुर में 14180, बाक्सा में 7282, और गोआलपाड़ा में 4750 लोग बाढ़ की वजह से काफी प्रभावित हो गए हैं.

बढे सब्जियों के दाम

असम में आई भीषण बाढ़ के कारण गुवाहाटी बाजार में सब्जियों की कीमतें बढ़ गई हैं, जिससे लोगों पर बोझ बढ़ गया है. बाढ़ की स्थिति के कारण 19 जिलों के लगभग 4.89 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. असम के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में, 10782.80 हेक्टेयर फसल भूमि बाढ़ के पानी में डूब गई है, जिसके परिणामस्वरूप फसल नष्ट हो गई है. बाढ़ ने सप्लाई चेन को भी बाधित कर दिया है, जिसके परिणामस्वरूप लगातार दो हफ़्तों तक सब्जियों की कीमत में वृद्धि हुई है.

राहत शिविरों में 35142 लोगों ने ली शरण

बजाली, बक्सा, बारपेटा, बिश्वनाथ, बोंगाईगांव, चिरांग, दरांग, धेमाजी, धुबरी, डिब्रूगढ़, गोलपारा, गोलाघाट, कामरूप, कोकराझार, लखीमपुर, नागांव, नलबाड़ी, तामुलपुर और उदलगुरी जिलों के 54 राजस्व मंडलों के अंतर्गत 1538 गांव प्रभावित हुए हैं. जलप्रलय. मूसलाधार बारिश के बाद ब्रह्मपुत्र नदी का जल स्तर जोरहाट जिले के नेमाटीघाट और धुबरी में खतरे के स्तर के निशान से ऊपर बह रहा है. जिला प्रशासन ने बाढ़ प्रभावित 14 जिलों में 140 राहत शिविर और 75 राहत वितरण केंद्र स्थापित किए हैं और इन राहत शिविरों में 35,142 लोगों ने शरण ली है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.