‘हमारी मस्जिद हमने खो दी’, राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा से पहले असदुद्दीन ओवैसी का भड़काऊ बयान

15

अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा से पहले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी भड़काऊ बयान दिया है. ओवैसी ने हैदराबाद में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, नौजवानो, हमारी मस्जिद हमने खो दी.

कहीं ऐसा ना हो के हमारी मस्जिदें छीन ली जाये : ओवैसी

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भड़काऊ बयान जारी रखते हुए कहा, नौजवानो मैं आपसे कहना चाहता हूं कि हमारी मस्जिद हमने खो दी और वहां क्या किया जा रहा है सभी देख रहे हैं. नौजवानों क्या तुम्हारे और हमारे दिलों में तकलीफ नहीं होती, जिस जगह पर हमने 500 साल एक जगह बैठकर कुरान पढ़ा, आज हो जगह हमारे हाथ में नहीं है. ओवैसी ने आगे कहा, नौजवानो, अपनी मिल्ली हमियत और ताकत को बरकरार और मस्जिदों को आबाद रखो. कहीं ऐसा ना हो के हमारी मस्जिदें छीन ली जाये.

ओवैसी की पार्टी ने अयोध्या में प्रस्तावित मस्जिद निर्माण पर जताया विरोध

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने इससे पहले अयोध्या में धन्नीपुर में प्रस्तावित सरकारी जमीन पर मस्जिद के निर्माण का विरोध भी कर चुकी है. AIMIM के प्रवक्ता मोहम्मद फरहान ने कहा था कि इस्लाम सरकारी या दान की गई जमीन पर मस्जिद निर्माण की इजाजत नहीं देता. ओवैसी की पार्टी ने मस्जिद की जगह पर दिव्यांग बच्चों की पढ़ाई के लिए स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी के निर्माण कराये जाने की अपील की थी.

2019 में सुप्रीम कोर्ट ने किया था बाबरी मस्जिद मामले का निपटारा

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने नौ नवंबर 2019 को राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद मामले में फैसला सुनाते हुए विवादित स्थल पर राम मंदिर का निर्माण कराने के आदेश दिये थे. इसके निर्माण के लिये श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का गठन किया गया था. जबकि मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में ही 5 एकड़ जमीन मस्जिद निर्माण के लिए देने का आदेश दिया था. विवादित जमीन पर राम लला का हक बताते हुए कोर्ट ने तीन महीने के अंदर ट्रस्ट बनाने का आदेश दिया था.

राम मंदिर में 22 जनवरी दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर होगी प्राण-प्रतिष्ठा की रस्म

अयोध्या में भगवान राम के मंदिर में प्राण-प्रतिष्ठा की रस्म 22 जनवरी को दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर होगी. राम मंदिर का निर्माण करा रही संस्था श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय ने सोमवार को बातचीत में कहा, प्राण—प्रतिष्ठा दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर होगी. उन्होंने कहा, प्राण-प्रतिष्ठा के बाद आरती करो, पास-पड़ोस के बाजारों में, मुहल्लों में भगवान का प्रसाद वितरण करो और सायंकाल सूर्यास्त के पश्चात दीपक जलाओ. ऐसा ही निवेदन आग्रह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या से सारे संसार का आह्वान करते हुए किया है. प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत देश की अनेक जानी-मानी हस्तियों को आमंत्रित किया गया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.