‘जो रास्ता चुना है, उसके लिए जेल जाना पड़ेगा’, अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में कहा

16

Arvind Kejriwal : दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि उनके पार्टी कार्यकर्ताओं को जेल जाने के लिए तैयार रहना चाहिए. अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि उनकी पार्टी ने अपनी ‘कार्य-केंद्रित राजनीति’ के लिए लोकप्रियता हासिल की है. साथ ही उन्होंने कार्यकर्ताओं से बात करते हुए कहा कि उन्होंने और उनकी पार्टी ने जनता की भलाई के लिए जो रास्ता चुना है, उसपर हमेशा आगे बढ़ते रहेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि इस राह पर आगे बढ़ने के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को जेल जाने के लिए तैयार रहना चाहिए. उन्होंने कहा है कि जनता की भलाई का रास्ता चुना है इसलिए उन्हें जेल तो जाना ही होगा.

साथ ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को आयोजित पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी और 12वीं राष्ट्रीय परिषद की बैठक में शामिल हुए. वीडियो कांफ्रेंस के जरिये बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि इन 10 वर्षों में आम आदमी पार्टी 1,350 राजनीतिक दलों के बीच तीसरे स्थान पर पहुंच गई है. आगे उन्होंने यह भी कहा, ‘अगर हम सफल नहीं होते और कुछ अच्छा नहीं करते तो हमारी पार्टी का कोई भी नेता जेल नहीं जाता और आज हर कोई अपने परिवार के साथ खुश होता.’

अरविंद केजरीवाल की यह टिप्पणी महत्वपूर्ण है, क्योंकि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने उन्हें दिल्ली आबकारी नीति से जुड़े धनशोधन मामले में तीन जनवरी को पेश होने के लिए समन जारी किया है. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ”बच्चों को अच्छी शिक्षा दोगे तो जेल जाना पड़ेगा. गरीबों को मुफ्त इलाज दोगे तो जेल जाना पड़ेगा. हमने जनता की भलाई के लिए जो रास्ता चुना है उसके लिए हमें जेल जाना होगा.”

राष्ट्रीय परिषद की बैठक में केजरीवाल ने इस बात पर जोर दिया कि आप ने देश को चुनावी राजनीति में एक व्यवहार्य विकल्प दिया है और अपनी कार्य-केंद्रित राजनीति के लिए लोकप्रियता हासिल की है. उन्होंने राज्य में उल्लेखनीय प्रगति के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान की भी प्रशंसा की. सीएम अरविंद केजरीवाल दस दिवसीय विपश्यना ध्यान सत्र पूरा करने के बाद शनिवार को दिल्ली लौट आए हैं.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.