ईडी के समन को दरकिनार कर विपश्यना के लिए रवाना हुए सीएम केजरीवाल, अब इतने दिनों तक नहीं हो सकेगी पूछताछ

14

ईडी के समन को दरकिनार कर दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल विपश्यना करने चले गये हैं. ईडी ने कथित शराब नीति घोटाला मामले में पूछताछ के लिए सीएम केजरीवाल को 21 दिसंबर के लिए समन दिया था. इस दिन ईडी उनसे मामले में पूछताछ करने वाली थी. लेकिन आज यानी बुधवार को सीएम केजरीवाल पहले से ही तय विपश्यना कार्यक्रम के लिए रवाना हो गये. विपश्यना शिविर में सीएम केजरीवाल 30 दिसंबर तक रहेंगे. इस दौरान वो ईडी के सामने पेश नहीं हो सकेंगे.

ईडी ने जारी किया था समन
गौरतलब है कि ईडी ने आबकारी नीति से जुड़े धन शोधन मामले में पूछताछ के लिए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को सोमवार को नया समन जारी किया था. वहीं ईडी के अधिकारियों ने बताया कि सीएम केजरीवाल को विपश्यना ध्यान सत्र के लिए मंगलवार को रवाना होना था, लेकिन गठबंधन ‘इंडिया’ की बैठक में शामिल होने के कारण वह ऐसा नहीं कर सके. उन्होंने बताया कि पूर्व निर्धारित ध्यान सत्र के लिए वह बुधवार दोपहर रवाना हुए.

आम आदमी पार्टी ने कही थी यह बात
ईडी की ओर से समन जारी करने पर आम आदमी पार्टी ने मंगलवार को कहा था कि पार्टी के अधिवक्ता ईडी की नोटिस का अध्ययन कर रहे हैं और कानूनी रूप से उचित कदम उठाए जाएंगे. वहीं विपश्यना पर जाने को लेकर AAP ने कहा कि सीएम केजरीवाल का विपश्यना सत्र पूर्व निर्धारित था और यह जानकारी सार्वजनिक थी.

पूर्व निर्धारित था सीएम केजरीवाल का कार्यक्रम- राघव चड्ढा
इस मामले में AAP सांसद राघव चड्ढा ने कहा है कि सीएम केजरीवाल का कार्यक्रम पूर्व निर्धारित था. हर कोई जानता है कि मुख्यमंत्री 19 दिसंबर को विपश्यना सत्र के लिए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि वह नियमित रूप से इस ध्यान सत्र के लिए जाते हैं. यह एक पूर्व निर्धारित और पूर्व घोषित कार्यक्रम है.

लगातार दूसरी बार की ईडी के समन की अनदेखी
यह लगातार दूसरी बार है जब ईडी के समन पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पूछताछ में शामिल नहीं होंगे. इससे पहले ईडी ने सीएम केजरीवाल को दो नवंबर को समन भेजा था, लेकिन नोटिस को अवैध और राजनीति से प्रेरित बताते हुए वह पूछताछ में शामिल नहीं हुए थे.

भाषा इनपुट से साभार

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.