फ्री दाल, चीनी और तेल दे रही है सरकार, जानिए ‘अन्नपूर्णा फूड पैकेट योजना’ में रजिस्ट्रेशन करने का तरीका

9

annapurna food packet yojana 2023 : राजस्थान सरकार के अन्नपूर्णा फूड पैकेट योजना से गरीबों को महंगाई से राहत मिलने की उम्मीद है. इस योजना को लेकर जो ताजा अपडेट आ रहा है वो यह है कि इसके तहत खाद्य सामग्री (सामान) खरीदने का काम अब जिला कलेक्टर की अध्यक्षता वाली जिला स्‍तरीय समिति के जरिए करवाया जाएगा. इस बाबत एक अधिकारी ने जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय समिति सामान खरीदेगी और फूड किट वितरित करने का काम करेगी.

यहां चर्चा कर दें कि पहले यह काम सहकारिता विभाग को सौंपा गया था. विभाग को इस योजना में लाभार्थियों को दिये जाने वाला खाद्य सामान खरीदकर उसे फूड किट के रूप में उपलब्ध कराना था. सरकार ने योजना को समय पर लागू कर इसे सफलतापूर्वक चलाने के लिए अब यह काम जिला स्तरीय समिति के माध्यम से कराने का फैसला किया है.

क्या है अन्नपूर्णा फूड पैकेट योजना जानें

आपको बता दें कि राजस्थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत गरीब परिवारों को निःशुल्क फूड पैकेट देने जा रही है. यह योजना प्रदेश की कांग्रेस सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है जिसे ‘अन्नपूर्णा फूड पैकेट योजना’ का नाम दिया गया है. इसके कार्यान्वयन को अप्रैल में मंजूरी दे दी थी. इस पर 392 करोड़ रुपये का मासिक खर्च आने का अनुमान है. प्रदेश के मुख्यमंत्री गहलोत ने सूबे के 1.06 करोड़ परिवारों को महंगाई से राहत दिलाने के लिए अहम निर्णय लिया है.

इस योजना के तहत क्या-क्या दिया जाएगा

इस योजना के तहत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) से जुड़े परिवारों को निःशुल्क फूड पैकेट उपलब्ध कराये जाएंगे. प्रत्येक पैकेट में चना दाल, चीनी, नमक एक-एक किलो, खाद्य तेल एक लीटर, मिर्ची पाउडर, धनिया पाउडर 100-100 ग्राम और हल्दी पाउडर 50 ग्राम सामग्री लाभुक को दी जाएगी. बताया जा रहा है कि लाभार्थियों को लगभग 370 रुपये प्रति पैकेट (सभी व्ययों सहित) की लागत से फूड पैकेट आपूर्ति करने पर राज्य सरकार को लगभग 392 करोड़ रुपये मासिक व्यय करना होगा.

कैसे किया जा रहा है रजिस्ट्रेशन

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में चल रहे महंगाई राहत श‍िव‍िर में इस योजना के लाभार्थियों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है. मंहगाई राहत शिविर में सभी गरीब नागरिकों एंव परिवारों को पहुंचना होगा. यहां एक फार्म उपलब्ध कराया जाएगा. इस फार्म को भर कर मांगे गये दस्तावेज के साथ जमा कराना होगा. इसके बाद आपको एक रसीद दी जाएगी. रजिस्ट्रेशन होने के बाद आपको सुविधा मिलने लगेगी. उचित मूल्यों की दुकानों (एफपीएस) में आपको यह पैकेट मिलेगा.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.