Andhra Pradesh: चंद्रबाबू नायडू की गिरफ्तारी के विरोध में टीडीपी कार्यकर्ताओं का बवाल, बंद बेअसर

19

टीडीपी कार्यकर्ताओं ने आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम और पार्टी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू की गिरफ्तारी और न्यायिक हिरासत के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया. पूर्व मुख्यमंत्री की गिरफ्तारी के विरोध में आज आंध्र प्रदेश में बंद का आह्वान किया गया था. मालूम हो भ्रष्टाचार के आरोप में सीबीआई ने चंद्रबाबू को गिरफ्तार किया. फिर कोर्ट ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

टीडीपी के बंद का आंध्र प्रदेश में कुछ खास असर नहीं

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू की गिरफ्तारी के विरोध में तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) द्वारा बुलाए गए राज्यव्यापी बंद के आह्वान को सोमवार को कुछ खास प्रतिक्रिया नहीं मिली और राज्य के कई हिस्सों में सुबह कारोबार सामान्य रहा. अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) (कानून एवं व्यवस्था) शंख ब्रत बागची के अनुसार, राज्य में स्थिति शांतिपूर्ण है और किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. पूर्वी गोदावरी के पुलिस अधीक्षक (एसपी) पी. जगदीश ने कहा कि जिले के राजामहेंद्रवरम और केंद्रीय कारागार के आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, जहां नायडू इस समय बंद हैं.

पुलिस ने डीटीपी के कई कार्यकर्ताओं को लिया हिरासत में

पुलिस को राज्य में कुछ स्थानों पर सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे तेदेपा कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करते देखा गया. तेदेपा के अध्यक्ष के अत्चन्नायडू सहित कई वरिष्ठ नेताओं को उनके संबंधित स्थानों से एहतियातन हिरासत में ले लिया गया. आंध्र प्रदेश के सबसे बड़े शहर विशाखापत्तनम में सुबह के समय बंद का सामान्य जनजीवन पर कोई असर नहीं देखा गया. सरकारी और निजी वाहन आम दिनों की तरह चलते दिखे.

चंद्रबाबू नायडू को 14 दिन की न्यायिक हिरासत

आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा की एक स्थानीय अदालत ने करोड़ों रुपये के कथित भ्रष्टाचार घोटाले में तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू को रविवार को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. नायडू को कड़ी सुरक्षा के साथ विजयवाड़ा से लगभग 200 किलोमीटर दूर राजामहेंद्रवरम केंद्रीय जेल ले जाया गया है.

सीआईडी ने चंद्रबाबू नायडू को शनिवार को किया था गिरफ्तार

सीआईडी दल ने आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री को शनिवार सुबह करीब छह बजे नांदयाल शहर के ज्ञानपुरम स्थित आर के फंक्शन हॉल के बाहर से कौशल विकास निगम घोटाला मामले में गिरफ्तार किया था. नायडू को उस समय गिरफ्तार किया गया था, जब वह सभी सुविधाओं से लैस अपनी विशेष बस में सो रहे थे. चंद्रबाबू की गिरफ्तारी के लगभग 36 घंटे बाद भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की एक अदालत ने रविवार शाम करीब छह बजकर 50 मिनट पर रिमांड आदेश जारी किया.

चंद्रबाबू नायडू पर 370 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी का है आरोप

आंध्र प्रदेश के अतिरिक्त महाधिवक्ता पी सुधाकर रेड्डी ने बताया, यह 370 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का स्पष्ट मामला है. अदालत ने हमारी दलीलें स्वीकार कीं. आंध्र प्रदेश के अपराध जांच विभाग (सीआईडी) के प्रमुख एन संजय ने शनिवार को कहा था कि नायडू को कौशल विकास निगम में धन के कथित दुरुपयोग से जुड़े धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार किया गया है, जिससे राज्य सरकार को 300 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.