Amitabh Bachchan Poem: अमिताभ बच्चन को याद आए पिता हरिवंश राय बच्चन, शेयर की कई कविताएं

0 93

नई दिल्ली, अमिताभ बच्चन उन बॉलीवुड सेलेब्स में हैं, जो लगातार सोशल मीडिया पर सक्रिय रहते हैं। कोविड-19 से जंग के दौरान भी अपने फैंस से सोशल मीडिया के जरिए रूबरू होते रहे। एक के बाद एक वह बेहतरीन कविताएं साझा कर रहे हैं। अब उन्होंने अपने पिता और हिंदी के हस्ताक्षर हरिवंश राय बच्चन की कुछ कविताएं अपनी सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की हैं।

अमिताभ ने पहली कविता के साथ हरिवंश राय बच्चन की एक तस्वीर भी साझा। अमिताभ ने लिखा, ‘धनुष उठा, प्रहार कर… तू सबसे पहला वार कर, अग्नि सी धधक–धधक…हिरन सी सजग सजग, सिंह सी दहाड़ कर, शंख सी पुकार कर… रुके न तू, थके न तू… झुके न तू, थमे न तू।’ दूसरी कविता की लाइन अमिताभ ने अग्निपथ से कोट किया। उन्होंने लिखा- ‘तू न रुकेगा कभी ; यू ना मुड़ेगा कभी ; तू ना झुकेगा कभी ; कर शपथ कर शपथ कर शपथ ; अग्निपथ अग्निपथ अग्निपथ !!’

 

‘अकेलेपन का बल पहचान

शब्द कहाँ जो तुझको टोके

हाथ कहाँ जो तुझको रोके

राह वही है, दिशा वही है, तू करे जिधर प्रस्थान

अकेलेपन का बल पहचान ।

जब तू चाहे तब मुसकाए,

जब चाहे तब अश्रु बहाए,

राग वही तू जिसमें गाना चाहे अपना गान ।

अकेलेपन का बल पहचान ।’

अमिताभ ने एक और कविता साझा की। उन्होंने ने लिखा, ‘अकेलेपन का बल पहचान, शब्द कहाँ जो तुझको टोके, हाथ कहाँ जो तुझको रोके, राह वही है, दिशा वही है, तू करे जिधर प्रस्थान, अकेलेपन का बल पहचान जब तू चाहे तब मुसकाए, जब चाहे तब अश्रु बहाए, राग वही तू जिसमें गाना चाहे अपना गान। अकेलेपन का बल पहचान।’ इस कविता के साथ अमिताभ बच्चन ने अपनी एक जबरदस्त तस्वीर भी साझा की है।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले अमिताभ बच्चन कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए थे। इसके बाद उन्होंने नानवटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। अमिताभ के साथ अभिषेक बच्चन, ऐश्वर्या राय और आराध्या बच्चन भी कोविड़ -19 पॉजिटिव हो गए थे। ऐश्वर्या और आराध्या को होम आइसोलेशन किया गया है। वहीं, अभिषेक का इलाज़ अब भी नानवटी में चल रहा है। इन सबके अलावा अमिताभ बच्चन बिल्कुल ठीक हो गए हैं और वह वापस घर आ गए हैं।