ट्रक के केबिन में एयर कंडीशनिंग सिस्टम होगा अनिवार्य, मसौदे को मोदी सरकार ने दी मंजूरी

5

ट्रक ड्राइवर बहुत जल्द वातानुकूलित केबिन में बैठकर गाड़ी चलाते दिख जाएंगे. केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार श्रेणियों N2 और N3 से संबंधित ट्रकों के केबिन में एयर कंडीशनिंग सिस्टम को अनिवार्य करने की तैयारी पूरी कर ली है. कुछ दिन पहले ही केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने इसकी जानकारी दी थी. अब एयर कंडीशनिंग सिस्टम को अनिवार्य करने के लिए एक मसौदा अधिसूचना को सरकार की मंजूरी भी मिल गयी है. इसकी जानकारी नितिन गडकरी ने ट्वीट कर दी.

रोड सेफ्टी में ट्रक ड्राइवरों की बड़ी भूमिका, एसी केबिन मिलने से चालकों को होगा आराम: गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट किया और बताया, एन2 और एन3 श्रेणी के ट्रकों के केबिन में एयर कंडीशनिंग सिस्टम की स्थापना को अनिवार्य करने के लिए मसौदा अधिसूचना को मंजूरी दी गई. सड़क सुरक्षा सुनिश्चित करने में ट्रक चालक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. यह निर्णय ट्रक ड्राइवरों के लिए आरामदायक काम करने की स्थिति प्रदान करने में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है, जिससे उनकी दक्षता में सुधार होगा और ड्राइवर की थकान की समस्या का समाधान होगा.

2025 तक ट्रक के केबिन में एसी अनिवार्य

कुछ दिनों पहले ही केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि 2025 तक ट्रक चालक दल के लिए एसी कंपार्टमेंट होना जरूरी होगा. एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नितिन गडकरी ने कहा था, ऑटो निर्माताओं को जल्द ही ट्रकों के चालक केबिन के अंदर एयर कंडीशनर स्थापित करना होगा. केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री ने एक कार्यक्रम में कहा, आज इस कार्यक्रम में आने से पहले, मैंने उस फाइल पर हस्ताक्षर किए हैं जो ट्रक चालक कंपार्टमेंट में एयर कंडीशनिंग को अनिवार्य करती है. हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि ट्रक चलाने वाले लोगों को अच्छी तरह से लिया जाए.

खर्च बढ़ने को लेकर ट्रक केबिन में एसी का किया गया था विरोध: गडकरी

नितिन गडकरी ने कार्यक्रम में ट्रक चालकों को लेकर चिंता जताते हुए कहा, हमारे ड्राइवर 43.47 डिग्री के कठोर तापमान में वाहन चलाते हैं और हमें ड्राइवरों की स्थिति की कल्पना करनी चाहिए. मैं मंत्री बनने के बाद एसी केबिन पेश करने का इच्छुक था. लेकिन कुछ लोगों ने इसका विरोध करते हुए कहा कि ट्रकों की लागत बढ़ जाएगी. आज, मैंने फाइल पर हस्ताक्षर किए हैं कि सभी ट्रक केबिन एसी केबिन होंगे.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.