Adani Group के शेयरों में जश्न का माहौल, 21 प्रतिशत तक उछले शेयर, हिंडनबर्ग पर अमेरिका ने कही बड़ी बात

6

Adani Group: भारतीय शेयर बाजार में आज तूफानी तेजी देखने को मिल रही है. दोपहर 2.30 बजे 0.52 प्रतिशत यानी 354.77 अंक ऊपर 69,219.88 के रिकार्ड स्तर पर कारोबार कर रहा है. जबकि, निफ्टी 0.68 प्रतिशत यानी 139.65 अंक ऊपर 20,826.45 के स्तर पर कारोबार कर रहा है. इस बीच, अदाणी ग्रुप में शेयर में तेजी देखने को मिली है. ग्रुप के शेयरों में 21 प्रतिशत तक की तेजी देखने को मिल रही है. Adani Enterprises Ltd के शेयरों में 15.68 प्रतिशत यानी 396.80 रुपये की तेजी के साथ 2,928.00 रुपये पर दोपहर 2.45 बजे कारोबार कर रहा है. Adani Ports and Special Economic Zone Ltd (ASPEZ) के शेयरों में 14.65 प्रतिशत यानी 128.70 रुपये की तेजी के साथ 1,007.35 रुपये पर कारोबार कर रहा है. Adani Green Energy Ltd के शेयरों में 20 प्रतिशत यानी 224.75 रुपये तक की तेजी देखने को मिली. इसके बाद, ये शेयर 1,348.50 रुपये पर कारोबार कर रहा था.

अमेरिका ने हिंडनबर्ग की रिपोर्ट को ठहराया गलत

एक तरफ सुप्रीम कोर्ट ने हिंडनबर्ग-अदाणी मामले में फैसला सुरक्षित रख लिया है. इसके साथ ही, ब्लूमबर्ग को अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने हिंडनबर्ग मामले में गौतम अदाणी का साथ दिया है. उन्होंने कहा कि अमेरिकी सरकार ने निष्कर्ष निकाला कि शॉर्ट-सेलर हिंडनबर्ग रिसर्च के भारतीय अरबपति गौतम अदाणी के खिलाफ कॉर्पोरेट धोखाधड़ी के आरोप श्रीलंका में एक कंटेनर टर्मिनल के लिए अपने समूह को 553 मिलियन डॉलर तक का विस्तार करने से पहले प्रासंगिक नहीं थे. अमेरिका स्थित हिंडनबर्ग रिसर्च की एक तीखी रिपोर्ट में आरोप, जिसने इस साल की शुरुआत में अदानी समूह के बाजार मूल्य से लगभग 100 बिलियन डॉलर का सफाया कर दिया था. अंतर्राष्ट्रीय विकास वित्त निगम या डीएफसी के रूप में सामने और केंद्र में थे, जिसने समूह की उचित परिश्रम जांच की. डीएफसी इस बात से संतुष्ट था कि शॉर्ट-सेलर की रिपोर्ट में आरोप, जिसमें कहा गया था कि अदानी “कॉर्पोरेट इतिहास में सबसे बड़ी धोखाधड़ी” कर रहा था, श्रीलंकाई परियोजना का नेतृत्व करने वाली सहायक कंपनी, अदानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड पर लागू नहीं थे. अधिकारी ने कहा कि अमेरिकी एजेंसी यह सुनिश्चित करने के लिए भारतीय फर्म की निगरानी भी जारी रखेगी कि अमेरिकी सरकार अनजाने में वित्तीय कदाचार या अन्य अनुचित व्यवहार का समर्थन नहीं करती है, यह देखते हुए कि यह महत्वपूर्ण है कि अमेरिका चीन की तुलना में बुनियादी ढांचा परियोजनाओं को अलग तरीके से देखता है.

adani green
Adani Green

अदाणी ग्रीन एनर्जी ने अंतरराष्ट्रीय बैंकों के संघ से 1.36 अरब अमेरिकी डॉलर जुटाए

अदाणी ग्रीन एनर्जी (एजीईएल) ने मंगलवार को घोषणा की कि उसने अंतरराष्ट्रीय बैंकों के एक संघ से 1.36 अरब अमेरिकी डॉलर जुटाए हैं. एजीईएल की ओर से जारी बयान के अनुसार, मार्च 2021 में प्रारंभिक परियोजना वित्तपोषण के बाद से 1.36 अरब अमेरिकी डॉलर के वित्त पोषण से कंपनी का कुल कोष बढ़कर तीन अरब अमेरिकी डॉलर हो गया. हरित ऋण सुविधा गुजरात के खावड़ा में दुनिया के सबसे बड़े नवीकरणीय ऊर्जा पार्क के विकास को सक्षम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी. बयान के अनुसार, खावड़ा में दुनिया का सबसे बड़ा नवीकरणीय ऊर्जा पार्क न केवल 2030 तक 45 गीगावॉट परिचालन नवीकरणीय क्षमता हासिल करने के एजीईएल के दृष्टिकोण को सक्षम करेगा, बल्कि शुद्ध शून्य कार्बन उत्सर्जन की दिशा में भारत की यात्रा में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा.

अदाणी ग्रुप ने बनाया रिकार्ड

भारतीय शेयर में सप्ताह के पहले दिन तूफानी तेजी से निवेशकों की झोली भर गयी. बाजार के दो प्रमुख सूचकांक निफ्टी और बीएसई सेंसेक्स ने हाई का नया रिकार्ड बनाया. इस बीच अदाणी ग्रुप की एक कंपनी ने भी रिकार्ड बनाया है. अदाणी इंटरनेशनल कंटेनर टर्मिनल प्राइवेट लिमिटेड (AICTPL) एक महीने में तीन लाख से अधिक कंटेनर की आवाजाही का प्रबंधन करने वाला देश का पहला टर्मिनल बन गया है. एआईसीटीपीएल मुंदड़ा में अदाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन (APSEZ) का एक संयुक्त उद्यम टर्मिनल है. एपीएसईजेड ने शेयर बाजार को दी जानकारी में कहा कि एआईसीटीपीएल ने नवंबर 2023 में 97 जहाजों में 3,00,431 टीईयू (बीस फुट समतुल्य इकाई) को संभालकर एक राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया. इसके साथ उसने मार्च 2021 में हर दिन करीब 10,000 टीईयू को संभालकर 2,98,634 टीईयू के अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ दिया. कंपनी के अनुसार, एआईसीटीपीएल एक महीने में 3,00,000 से अधिक कंटेनर की आवाजाही का प्रबंधन करने वाला भारत का पहला टर्मिनल बन गया है

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.