Adani Group: अदाणी इलेक्ट्रिसिटी की बड़ी तैयारी, मुंबई में 2,000 करोड़ रुपये से बनाएगी दो ट्रांसमिशन लाइन

11

Adani Group: अदाणी समूह की कंपनी अदाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई में अपने नेटवर्क को मजबूत करने उद्देश्य से शहर में दो नई ट्रांसमिशन लाइन बनाने के लिए 2,000 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश कर रही है. कंपनी के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि यह 2027 तक शहर के लिए जरूरी बिजली का 60 प्रतिशत नवीकरणीय ऊर्जा से प्राप्त करके उसे अधिक हरित बनाने की दिशा में एक कदम है. इन दो नई ट्रांसमिशन लाइन में मेगालोपोलिस के उत्तरपूर्वी उपनगर में 84 सीकेएम खारघर (नवी मुंबई में) विखरोली लाइन और ठाणे-आरे कॉलोनी लाइन शामिल हैं. विखरोली लाइन 2025 तक तैयार हो जाएगी.

इसी साल शुरू होगा परियोजना का काम

कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उम्मीद है कि इस साल अक्टूबर से योजना पर काम शुरू हो जाएगा. ठाणे लाइन पर काम पहली लाइन के बाद शुरू होगा और 2027 में यह चालू होगी. कंपनी अपनी मूल कंपनी अदाणी ट्रांसमिशन की परियोजनाओं के जरिए अंतरराष्ट्रीय ऋणदाताओं से 1,700 करोड़ रुपये का कर्ज हासिल करने में पिछले सप्ताह सफल रही थी. उन्होंने कहा कि हम इसके लिए 2,000 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश करेंगे, जिसमें से 1,700 करोड़ रुपये वित्त पोषित ऋण होंगे.

जीक्यूजी ने अदाणी पोर्ट्स में हिस्सेदारी बढ़ाकर पांच प्रतिशत से अधिक की

अमेरिका स्थित निवेश फर्म जीक्यूजी पार्टनर्स ने अदाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन (एपीएसईजेड) में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर पांच प्रतिशत से अधिक कर लिया है. अरबपति गौतम अडाणी के समूह को लेकर बाजार की चिंताओं को नजरअंदाज करते हुए निवेश फर्म लगातार इस पर दांव लगा रही है. शेयर बाजार को दी जानकारी के मुताबिक फ्लोरिडा स्थित जीक्यूजी ने थोक सौदे के जरिए एपीसेज में अपनी हिस्सेदारी 4.93 प्रतिशत से बढ़ाकर 5.03 प्रतिशत कर दी है. जीक्यूजी के पास अब अदाणी समूह की 10 कंपनियों में से पांच में हिस्सेदारी है. इसने 16 अगस्त को अदाणी पावर लिमिटेड में 7.73 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी. ताजा निवेश डेलॉयट द्वारा एपीसेज के ऑडिटर के रूप में पद छोड़ने के कुछ दिनों बाद आया है. जीक्यूजी ने अब तक अदाणी समूह की कंपनियों में 38,700 करोड़ रुपये का निवेश किया है.

(इनपुट- भाषा)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.