हिरासत में बाल एवं महिला विभाग के डिप्टी डायरेक्टर, अधिकारी पर नाबालिग से दुष्कर्म का है आरोप

10

Delhi Crime News : दिल्ली में बाल एवं महिला विभाग के डिप्टी डायरेक्टर पर एक नाबालिग से दुष्कर्म का आरोप लगाया गया है. इस आरोप के बाद दिल्ली महिला आयोग समेत कई लोगों के द्वारा पुलिस पर उनकी गिरफ्तारी का दबाव बनाया जा रहा था. दिल्ली पुलिस ने अब कार्रवाई करते हुए आरोपी अधिकारी को हिरासत में ले लिया है. बताया जा रहा है कि उन्हें हिरासत में लेकर पुलिस मामले से संबंधित पूछताछ कर रही है. उनपर अपने दोस्त की बेटी के साथ ही दुष्कर्म करने का आरोप है.

बुरारी स्थित आवास से हिरासत में लिया गया आरोपी

दिल्ली पुलिस की एक टीम सोमवार को आरोपी अधिकारी के बुरारी स्थित आवास पर पहुंची. उन्हें हिरासत में लेकर डीसीपी नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट सागर सिंह कलसी ने बताया कि दुष्कर्म के आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है और हम उससे पूछताछ कर रहे हैं. साथ ही पुलिस ने यह भी बताया कि आरोपी का बयान दर्ज किया जा रहा है. इससे पहले दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने भी सोमवर को दिल्ली पुलिस को एक नोटिस दिया था जिसमें नाबालिग से दुष्कर्म और उसे गर्भवती करने के आरोपी दिल्ली सरकार के वरिष्ठ अधिकारी की गिरफ्तारी की मांग की गई थी.

पीड़ित को गर्भपात के लिए दवाएं देने का आरोप

पुलिस के एक अधिकारी ने मामले की जानकारी देते हुए कहा था कि महिला एवं बाल विकास विभाग में उप निदेशक आरोपी अधिकारी ने नवंबर 2020 और जनवरी 2021 के बीच कई बार लड़की से कथित रूप से दुष्कर्म किया. उन्होंने यह बताया कि अधिकारी की पत्नी पर भी पीड़ित को गर्भपात के लिए दवाएं देने का आरोप लगाया गया है. आगे पुलिस ने बताया कि जब नाबालिग ने यह बात आरोपी की पत्नी को बताई तो महिला ने उसे धमकाया और उसका गर्भपात भी करा दिया. लड़की तनाव और दबाव में है. घटना के बाद उन्हें पैनिक अटैक का भी सामना करना पड़ा. डॉक्टरों ने बताया कि लड़की बयान देने के लिए फिट नहीं है. लड़की का बयान दर्ज करने के बाद कार्रवाई की जाएगी”

सीएम अरविंद केजरीवाल के आदेश पर अधिकारी को किया गया निलंबित

दिल्ली सरकार के एक अधिकारी पर अपने मृत दोस्त की नाबालिग बेटी से कई महीनों तक कथित तौर पर दुष्कर्म करने का मामला दर्ज किया गया है. सीएम अरविंद केजरीवाल के आदेश पर अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है. इस मामले पर दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि जिसका काम बेटियों की सुरक्षा करना था, वही भक्षक बन जाए तो लड़कियां कहां जाएं?’ मालीवाल ने यह भी कहा कि दिल्ली में महिला एवं बाल विकास विभाग में उप निदेशक के पद पर बैठे सरकारी अधिकारी पर बच्ची से यौन शोषण का गंभीर आरोप लगा है.

मित्र की नाबालिग बेटी से कई बार दुष्कर्म !

पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा कि पुलिस ने अब तक उसे गिरफ्तार नहीं किया है. दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर रहे हैं. जिसका काम बेटियों की सुरक्षा करना था वही भक्षक बन जाये तो लड़कियां कहां जाएं. जल्द गिरफ्तारी होनी चाहिए.’ पुलिस ने रविवार को बताया कि दिल्ली सरकार के अधिकारी पर अपने मित्र की नाबालिग बेटी से कई बार दुष्कर्म करने और उसे गर्भवती करने का मामला दर्ज किया गया है. लड़की एक अक्टूबर, 2020 को अपने पिता के निधन के बाद से आरोपी और उसके परिवार के साथ रह रही थी.

मामले में प्राथमिकी दर्ज

दिल्ली सरकार ने एक बयान में कहा डब्ल्यूसीडी विभाग में उप निदेशक का खिलाफ कथित मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, अब कानून अपना काम करेगा. दिल्ली सरकार महिलाओं की सुरक्षा एवं बच्चों के उत्पीड़न से संबंधित इस तरह के गंभीर मामलों के प्रति संवेदनशील है. अगर आरोपी ने इस तरह का निंदनीय कृत्य किया है तो उसके खिलाफ हर संभव सख्त कार्रवाई होनी चाहिए.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.