27 एकड़ में फैला अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर, वैज्ञानिक तकनीक और वास्तुशिल्प का अद्भुत संगम, देखें तस्वीरें

5
14021 ap02 14 2024 000270a
अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को स्वामीनारायण संप्रदाय के पदाधिकारियों की उपस्थिति में मंत्रोच्चार के बीच अबू धाबी के पहले हिंदू मंदिर का उद्घाटन किया. हल्के गुलाबी रंग का रेशमी कुर्ता पजामा, बिना बांह वाली जैकेट और पटका पहने हुए प्रधानमंत्री ने मंदिर के लोकार्पण समारोह में पूजा विधि में भाग लिया. प्रधानमंत्री ने ‘वैश्विक आरती’ में भी भाग लिया जो बोचासनवासी श्री अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (बीएपीएस) द्वारा दुनियाभर में बने स्वामीनारायण संप्रदाय के 1200 से अधिक मंदिरों में एक साथ आयोजित की गई.

अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

27 एकड़ जमीन पर बनाया गया हिंदू मंदिर

दुबई-अबू धाबी शेख जायेद हाइवे पर अल रहबा के समीप स्थित बोचासनवासी श्री अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (बीएपीएस) द्वारा निर्मित यह हिंदू मंदिर करीब 27 एकड़ जमीन पर बनाया गया है.

14021 pti02 14 2024 000235b
अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

मंदिर में लगाए गए हैं 300 से अधिक सेंसर, 700 करोड़ रुपये की लागत से किया गया तैयार

इस मंदिर में तापमान मापने और भूकंपीय गतिविधि पर नजर रखने के लिए उच्च तकनीक वाले 300 से अधिक सेंसर लगाए गए हैं. मंदिर के निर्माण में किसी भी धातु का उपयोग नहीं किया गया है और नींव को भरने के लिए उड़न राख यानी ‘फ्लाई ऐश’ (कोयला आधारित बिजली संयंत्रों से निकलने वाली राख) का उपयोग किया गया है. इस मंदिर को करीब 700 करोड़ रुपए की लागत से बनाया गया है.

अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

मंदिर के दोनों ओर बह रहा गंगा और यमुना का पवित्र जल

मंदिर के दोनों ओर गंगा और यमुना का पवित्र जल बह रहा है जिसे बड़े-बड़े कंटेनर में भारत से लाया गया है. मंदिर प्राधिकारियों के अनुसार, जिस ओर गंगा का जल बहता है वहां पर एक घाट के आकार का एम्फीथिएटर बनाया गया है.

14021 ap02 14 2024 000274a
अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

25000 से अधिक पत्थर के टुकड़ों से तैयार किया गया संगमरमर की नक्काशी

मंदिर के अग्रभाग पर बलुआ पत्थर पर उत्कीर्ण संगमरमर की नक्काशी है, जिसे राजस्थान और गुजरात के कुशल कारीगरों द्वारा 25,000 से अधिक पत्थर के टुकड़ों से तैयार किया गया है. मंदिर के लिए उत्तरी राजस्थान से अच्छी-खासी संख्या में गुलाबी बलुआ पत्थर अबू धाबी लाया गया है. मंदिर के निर्माण के लिए 700 से अधिक कंटेनर में दो लाख घन फुट से अधिक ‘पवित्र’ पत्थर लाया गया है.

अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

मंदिर के लिए जमीन संयुक्त अरब अमीरात ने दान में दी

इस मंदिर का निर्माण कार्य 2019 से जारी है. मंदिर के लिए जमीन संयुक्त अरब अमीरात ने दान में दी है. संयुक्त अरब अमीरात में तीन और हिंदू मंदिर हैं जो दुबई में स्थित हैं. अद्भुत वास्तुशिल्प और नक्काशी के साथ एक बड़े इलाके में फैला बीएपीएस मंदिर खाड़ी क्षेत्र में सबसे बड़ा मंदिर होगा.

14021 pti02 14 2024 000247b
अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

संयुक्त अरब अमीरात के सात अमीरात का प्रतिनिधित्व करते हैं मंदिर के सात शिखर

मंदिर में सात शिखर बनाए गए हैं जो संयुक्त अरब अमीरात के सात अमीरात का प्रतिनिधित्व करते हैं. सात शिखरों पर भगवान राम, भगवान शिव, भगवान जगन्नाथ, भगवान कृष्ण, भगवान स्वामीनारायण, तिरूपति बालाजी और भगवान अयप्पा की मूर्तियां हैं. सात शिखर सात महत्वपूर्ण देवताओं को समर्पित हैं. ये शिखर संस्कृतियों और धर्मों के परस्पर संबंध को रेखांकित करते हैं. आम तौर पर, हमारे मंदिरों में या तो एक शिखर होता है या तीन या पांच शिखर होते हैं, लेकिन यहां सात शिखर हैं.

अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

108 फुट ऊंचा है अबू धाबी का हिंदू मंदिर

अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर कुल 108 फुट ऊंचा है. यह मंदिर क्षेत्र में विविध समुदायों के सांस्कृतिक एकीकरण का मार्ग प्रशस्त करेगा.

14021 pti02 14 2024 000241a
अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

यूएई के राष्ट्रीय पक्षी बाज को मंदिर के डिजाइन में किया गया शामिल

मेजबान देश को समान प्रतिनिधित्व देने के लिए भारतीय पौराणिक कथाओं में हाथी, ऊंट और शेर जैसे महत्वपूर्ण स्थान रखने वाले जानवरों के साथ-साथ यूएई के राष्ट्रीय पक्षी बाज को भी मंदिर के डिजाइन में शामिल किया गया है.

अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर

मंदिर में रामायण और महाभारत सहित भारत की 15 कहानियां

मंदिर में रामायण और महाभारत सहित भारत की 15 कहानियों के अलावा माया, एजटेक, मिस्र, अरबी, यूरोपीय, चीनी और अफ्रीकी सभ्यताओं की कहानियों को भी दर्शाया गया है. मंदिर में ‘शांति का गुंबद’ और ‘सौहार्द का गुंबद’ भी बनाया गया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.