Vande Bharat Train: देश को आज 5 वंदे भारत ट्रेनों की सौगात, भोपाल में पीएम मोदी हरी झंडी दिखाकर करेंगे रवाना

4

Vande Bharat Train: 27 जून यानी आज देश को 5 नये वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की सौगात मिल रही है. इसी को लेकर पीएम मोदी आज मध्यप्रदेश के दौरे पर रहेंगे. पीएम मोदी आज भोपाल स्थित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन से पांच वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे. इस दौरान प्रधानमंत्री रानी कमलापति-जबलपुर वंदे भारत एक्सप्रेस को छोड़कर बाकी चार ट्रेनों को वर्चुअली हरी झंडी दिखाएंगे.

पीएम मोदी इन 5 वंदे भारत ट्रेनों को दिखाएंगे हरी झंडी
प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की ओर से सोमवार को जारी एक बयान में बताया गया कि प्रधानमंत्री जिन पांच ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे उनमें रानी कमलापति-जबलपुर वंदे भारत एक्सप्रेस, खजुराहो-भोपाल-इंदौर वंदे भारत एक्सप्रेस, मडगांव (गोवा)-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस, धारवाड़-बेंगलुरु वंदे भारत एक्सप्रेस और रांची-पटना वंदे भारत एक्सप्रेस शामिल हैं.

रांची पटना रूट पर दौड़ेगी पहली वंदे भारत ट्रेन
पीएम मोदी की ओर से मध्य प्रदेश को इस बार एक साथ दो वंदे भारत ट्रेन की सौगात दी जा रही है. जबकि, गोवा, बिहार और झारखंड को उनकी पहली वंदे भारत ट्रेन मिलने जा रही है. पीएमओ की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि रानी कमलापति-जबलपुर वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन महाकौशल क्षेत्र (जबलपुर) को मध्य प्रदेश के मध्य क्षेत्र (भोपाल) से जोड़ेगी. इससे, भेड़ाघाट, पचमढ़ी, सतपुड़ा आदि पर्यटन स्थलों की ओर आवाजाही सुलभ होगी.

पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
खजुराहो-भोपाल-इंदौर वंदे भारत एक्सप्रेस मालवा क्षेत्र और बुंदेलखंड क्षेत्र को भोपाल से जोड़ेगी, जिससे दोनों क्षेत्रों के संपर्क में सुधार होगा. इससे महाकालेश्वर, मांडू, महेश्वर, खजुराहो, पन्ना जैसे महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों को लाभ मिलेगा. गोवा के मडगांव और मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस गोवा की पहली वंदे भारत एक्सप्रेस होगी. यह मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस और गोवा के मडगांव स्टेशन के बीच चलेगी.

धारवाड़-बेंगलुरु वंदे भारत एक्सप्रेस कर्नाटक के महत्वपूर्ण शहरों धारवाड़, हुबली और दावणगेरे को राज्य की राजधानी बेंगलुरु से जोड़ेगी.बयान के अनुसार, इससे क्षेत्र में पर्यटकों, छात्रों, उद्योगपतियों आदि को बहुत लाभ होगा. हटिया-पटना वंदे भारत एक्सप्रेस झारखंड और बिहार के लिए पहली वंदे भारत होगी. पीएमओ ने कहा कि पटना और रांची के बीच संपर्क बढ़ाने वाली यह ट्रेन पर्यटकों, छात्रों और व्यवसाइयों के लिए वरदान साबित होगी.
भाषा इनपुट से साभार

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.