दिल्ली में CRPF के बाद ITBP के 45 जवान कोरोना पॉजिटिव, सेना के जवान भी संक्रमित

0 140

नई दिल्ली, दिल्ली में भारत- तिब्बत सीमा पुलिस (Indo-Tibetan Border Police) के 45 जवानों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। आइटीबीपी (ITBP) के अधिकारी ने बताया कि इनमें से 43 जवान राजधानी में आंतरिक सुरक्षा में तैनात थे, जबकि दो जवान दिल्ली पुलिस के साथ कानून-व्यवस्था की ड्यूटी के लिए तैनात किए गए थे।

मिली जानकारी के मुताबिक, दो जवानों को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जबकि 41 जवानों को दिल्ली से सटे यूपी के ग्रेटर नोएडा में भर्ती करवाया गया है। इसके अलावा ITBP के दो जवानों को हरियाणा के झज्जर में स्थित एम्स में भर्ती करवाया गया है।

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के 76 जवानों को छावला स्थित ITBP की छावनी में क्वारंटाइन किया गया है। बताया जा रहा है कि ये जवान संक्रमित जवानों के संपर्क में आए थे।

सेना के जवान भी संक्रमति

इसके अलावा सैन्य अस्पताल में भर्ती 24 मरीज भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। ये लोग भारतीय सेना के अस्पताल में भर्ती हैं। सेना के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने बताया कि 24 मरीजों में कुछ सेना में कार्यरत जवान हैं, जबकि कुछ सेवानिवृत्त सैन्यकर्मी हैं। इसके अलावा इनके परिजन भी संक्रमित हुए हैं। इन सभी जवानों को दिल्ली कैंट के एक सैन्य हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है।

सेना के जवानों के संपर्क में आए लोगों की पहचान की जा रही है, ताकि संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके।

सीमा सुरक्षा बल के 54 सैनिक कोरोना पॉजिटिव

कोरोना संकट के कारण केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का मुख्यालय सील किए जाने के बाद सोमवार को सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) मुख्यालय के पहले और दूसरे तल को भी सील कर दिया गया है। बीएसएफ के अधिकारियों ने बताया कि लोधी रोड पर सीजीओ कॉम्प्लेक्स स्थित बीएसएफ मुख्यालय के दूसरे तल पर काम करने वाले एक हेड कॉन्स्टेबल के तीन मई को कोरोना संक्रमित आने के बाद यह कार्रवाई की गई। सीमा सुरक्षा बल के कुल 54 सैनिकों को अब तक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इस बीच, बंगाल गई अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय टीम (आइएमसीटी) के साथ तैनात बीएसएफ का एक जवान संक्रमित पाया गया है।

एसएसबी के 13 कर्मी कोरोना संक्रमित

सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के 13 कर्मियों का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है। एसएसबी के अधिकारियों ने बताया कि 9 संक्रमित कर्मी दिल्ली के घिटोरनी क्षेत्र में तैनात 25वीं बटालियन के हैं, जबकि अन्य 4 संक्रमित अलग-अलग बटालियनों में तैनात हैं।