प्रधानमंत्री मोदी से 24 धार्मिक नेताओं ने की मुलाकात, नये संसद भवन के बाहर दिखा सर्वधर्म का अद्भुत नजारा – Prabhat Khabar

5

05021 pti02 05 2024 000310b

नये संसद भवन के बाहर सोमवार को एक बेहतरीन नजारा देखने का मिला. जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने आये 24 धार्मिक नेता एक साथ एक मंच पर नजर आए. संसद भवन के बाहर सर्वधर्म समभाव का अद्भुत दृश्य नजर आया.

24 धार्मिक नेताओं के प्रतिनिधिमंडल में कौन-कौन शामिल

इंडियन माइनॉरिटीज फाउंडेशन के तत्वावधान में 24 धार्मिक नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की. प्रतिनिधिमंडल में सिख, जैन, ईसाई और पारसी समुदायों का प्रतिनिधियों के अलावा अखिल भारतीय इमाम संगठन के प्रमुख इमाम उमर अहमद इलियासी और महाबोधि इंटरनेशनल मेडिटेशन सेंटर के संस्थापक अध्यक्ष भिक्खू संघसेना शामिल थे.

Also Read: ‘BJP को 370 तो NDA को 400 पार’, PM मोदी ने तीसरे कार्यकाल के लिए सेट किया टारगेट

धार्मिक नेताओं से मिलकर खुश हुए पीएम मोदी

पीएम मोदी ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट किया, आज संसद में धार्मिक नेताओं के प्रतिनिधिमंडल से मिलकर खुशी हुई. मैं हमारे देश के विकास को लेकर उनके दयालु शब्दों के लिए उन्हें धन्यवाद देता हूं. प्रधानमंत्री ने बैठक की कुछ तस्वीरें भी साझा की.

Also Read: ‘एक ही प्रोडक्ट लॉन्च करने के चक्कर में कांग्रेस का हो रहा बेड़ा गर्क’, PM Modi ने साधा राहुल गांधी पर निशाना

पीएम मोदी से मुलाकात के बाद क्या बोले जैन मुनि

जैन गुरु विवेक मुनि ने कहा, पीएम नरेंद्र मोदी के साथ यह बहुत अच्छी मुलाकात रही. हम यहां भारतीय अल्पसंख्यक फाउंडेशन की ओर से एकत्र हुए हैं. एकता, अखंडता और ‘सर्व धर्म सद्भाव’ पर हमारे काम की पीएम ने सराहना की है.

Also Read: ‘अगले चुनाव में दर्शक दीर्घा में दिखेगा विपक्ष…’, बोले PM Modi, तीसरे टर्म में तीसरी बड़ी इकोनॉमी बनेगा भारत

पीएम मोदी से मुलाकात के बाद क्या बोले इमाम उमेर अहमद इलियासी

ऑल इंडिया इमाम ऑर्गनाइजेशन के चीफ इमाम डॉ इमाम उमेर अहमद इलियासी ने पीएम मोदी से मुलाकात के बाद कहा, हम यह संदेश देना चाहते थे कि इंसानियत सबसे बड़ा धर्म है. हम भारत में रहते हैं और हम भारतीय हैं. हमें देश को मजबूत बनाना है. हमने यह संदेश भी दिया कि हम सब एकजुट हैं. मालूम हो अहमद इलियासी प्राण-प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए अयोध्या भी पहुंचे थे. हालांकि अयोध्या जाने पर इलियासी के खिलाफ फतवा भी जारी किया गया था और उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी गई थी.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.