24 पिस्टलों के साथ तीन हथियार तस्कर गिरफ्तार, मध्य प्रदेश से अवैध हथियार लाकर दिल्ली के गैंगस्टरों को बेचने आए थे

0 78


दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दो अंतरराज्यीय हथियार तस्कर समेत तस्करी के धंधे में सहयोग करने वाले कार चालक को गिरफ्तार किया है। आरोपित मध्य प्रदेश से अवैध हथियार लाकर उसे दिल्ली के गैंगस्टरों को बेचने आए थे। दोनों पिछले एक साल से मध्य प्रदेश के खरगोन, धार, बदवानी व बुरहानपुर से अवैध पिस्टल लाकर दिल्ली-एनसीआर के बदमाशों को हथियार बेच रहे थे। मध्य प्रदेश में साढे़ सात हजार में पिस्टल खरीदकर वे लोग उसे दिल्ली के बदमाशों को 15 हजार व उत्तर प्रदेश तथा हरियाणा के बदमाशों को 25 से 35 हजार रुपये में बेचते थे।

डीसीपी स्पेशल सेल संजीव कुमार यादव के मुताबिक चार मार्च को स्पेशल सेल को सूचना मिली कि उत्तर प्रदेश के दो हथियार तस्कर मध्य प्रदेश से पिस्टल की बड़ी खेप लेकर दिल्ली पहुंच रहे हैं। इस पर हेलीपैड एरिया, रोहिणी में घेराबंदी कर सेल की टीम ने कार चालक सहित दोनों तस्करों को दबोच लिया। गिरफ्तार किए गए तस्करों के नाम भुवनेश कुमार, राकेश कुमार व कार चालक का नाम चंद्रवीर सिंह है। इनके पास से बेहतर क्वालिटी की 24 सेमी आटोमेटिक पिस्टल, मोबाइल फोन, सिम व तस्करी में इस्तेमाल चोरी की बैगन आर कार बरामद की गई है।


भुवनेश उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के मुरसन ब्लाक का रहने वाला है। वह पहले बाउंसर का काम करता था। लॉकडाउन के दौरान पड़ोस के गांव बुरहानपुर निवासी राकेश के संपर्क में आकर हथियार तस्करी करने लगा था। बड़े गैंगस्टरों से संपर्क होने पर वह हथियारों की बड़ी खेप लाने लगे थे। वहीं चंद्रवीर ¨सह अलीगढ़ का रहने वाला है। वह पहले बाइक मैकेनिक का काम करता था। भुवनेश के संपर्क में आकर उसने दिल्ली में रहने वाले एक परिचित से चोरी की कार खरीद हथियार तस्करी शुरू कर दी थी। भुवनेश उसे प्रति खेप करीब 10 हजार रुपये देता था।