16वें प्रवासी भारतीय दिवस का कल होगा आयोजन, जानिए सम्मेलन से जुड़ी हुईं खास बातें

0 104


शनिवार को 16वें प्रवासी भारतीय दिवस का आयोजन किया जाएगा। इस एक दिवसीय वर्चुअल सम्मेलन का उद्घाटन प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा। उद्घाटन सत्र के दौरान सूरीनाम गणराज्य के राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसोद संतोखी मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इस सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इस 16वें भारतीय भारतीय दिवस का विषय ‘आत्मानिर्भर भारत का योगदान’ है।

9 जनवरी 1915 को महात्मा गांधी दक्षिण अफ्रीका से आए थे भारत

बता दें कि प्रवासी भारतीय दिवस हर दो साल में एक बार मनाया जाता है जो विदेशी भारतीयों के साथ जुड़ने का एक अनूठा मंच प्रदान करता है। इस अवसर को मनाने के लिए 9 जनवरी को उस दिन के रूप में चुना गया था क्योंकि 1915 में इसी दिन महात्मा गांधी दक्षिण अफ्रीका से भारत लौटे थे। उनके आगमन के बाद महात्मा गांधी ने भारत के स्वतंत्रता संग्राम का नेतृत्व किया और भारत को स्वतंत्रता मिली थी।


पहली बार 2003 में प्रवासी भारतीय का हुआ था आयोजन

भारत के विकास में प्रवासी भारतीय समुदाय के योगदान को चिह्नित करने के लिए वर्ष 2003 में पहली प्रवासी भारतीय दिवस का आयोजन किया गया था। यह सम्मेलन भारतीय प्रवासियों के मुद्दों और चिंताओं पर चर्चा करने और उन व्यक्तियों को सम्मानित करने के लिए एक मंच प्रदान करता है जिन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में असाधारण योगदान दिया है।

16वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन के दौरान प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कारों के नामों की घोषणा की जाएगी। अधिवेशन के दौरान भारत को जानी क्विज के पंद्रह विजेताओं की भी घोषणा की जाएगी। विजेताओं को कोविड -19 महामारी के बाद भारत के दौरे के लिए आमंत्रित किया जाएगा।