हो गया टूर्नामेंट के नॉकआउट मुकाबलों की मेजबानी पर फैसला, इस शहर में खेले जाएंगे मैच

0 25


भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के घरेलू वनडे चैंपियनशिप विजय हजारे ट्रॉफी के नॉकआउट चरण में खेले जाने वाले मुकाबलों के आयोजन स्थल पर फैसला हो गया है। टूर्नामेंट के सभी नॉटआउट मैच सात मार्च से दिल्ली में खेले जाएंगे। इन सभी मुकाबलों का आयोजन अरुण जेटली स्टेडियम और पालम मैदान पर किया जाएगा। बीसीसीआइ के सचिव के कार्यालय से सभी मान्यता प्राप्त इकाइयों को 25 फरवरी को भेजे गए ईमेल के अनुसार, ‘विजय हजारे ट्रॉफी 2020-21 का नॉकआउट चरण सात मार्च से नई दिल्ली में खेला जाएगा।’

टूर्नामेंट का लीग चरण देश के विभिन्न स्थलों पर बायो-बबल में खेला जा रहा है। टीमों को पांच एलीट ग्रुप और एक प्लेट ग्रुप में विभाजित किया गया है। बीसीसीआइ की वेबसाइट के अनुसार प्री क्वार्टर फाइनल (एलिमिनेटर) सात मार्च को, जबकि क्वार्टर फाइनल आठ और नौ मार्च को खेले जाएंगे। दो सेमीफाइनल 11 मार्च को, जबकि फाइनल 14 मार्च को आयोजित होगा।


टूर्नामेंट में टीमों को पांच ग्रुप में रखा गया है जिसमें एलीट ए, एलीट बी, एलीट सी, एलीट डी और प्लीट ग्रुप है। सभी ग्रुप में टीमें आपस में एक एक मैच खेलेंगी। 5 टॉप पर रहने वाली टीमें सीधा क्वार्टर फाइनल में जगह बनाएंगी जबकि एक सबसे अच्छा करने वाली टीम भी अंतिम आठ में जगह बनाएंगी। इसके बाद बचे हुए तीन स्थान के लिए ग्रुप में दूसरे स्थान पर रहे बाकी के चार टीमों के बीच मुकाबला होगा।

प्री क्वार्टर फाइनल में जो दो टीम जीत हासिल करने में कामयाब रहेगी उसे अंतिम 8 टीमों में शामिल होने का मौका मिलेगा। इसके बाद नॉकआउट चरण के मुकाबले खेले जाएंगे। आठ में चार टीमें सेमीफाइनल में पहंचेंगी और फिर अंतिम दो टीमों के बीच टूर्नामेंट के विजेता का फैसला होगा।