हिमाचल सरकार का निर्णय, राज्य में में 31 दिसंबर तक बंद रहेंगे सभी शिक्षण संस्थान

0 83


हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्य में स्कूल, कॉलेज सहित सभी शिक्षण संस्थानों को 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यह निर्णय लिया गया। बता दें कि राज्य में कोविड-19 के मामलों की संख्या में वृद्धि के कारण राज्य सरकार ने इस वर्ष तक प्रदेश भर में सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का निर्णय लिया है। इससे पहले 11 नवंबर से 25 नवंबर तक राज्य के सभी शिक्षण संस्थानों में विशेष अवकाश की घोषणा की गई थी। वहीं, 25 नवंबर के बाद शिक्षण संस्थानों को फिर से खोलने की तैयारी थी। लेकिन, राज्य में संक्रमण के मामले में अचानक बढ़ोतरी होने के कारण इस वर्ष के अंत तक सभी स्कूल, कॉलेज समेत अन्य शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का निर्णय लिया गया है।

राज्य में स्कूलों और कॉलेजों को बंद रखने के अलावा, संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए हिमाचल प्रदेश के चार जिलों में नाइट कर्फ्यू भी लगाई जाएगी। राज्य के शिमला, मंडी, कांगड़ा, और कुल्लू जिलों में 24 नवंबर से 15 दिसंबर तक रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू रहेगी। हिमाचल में 26 नवंबर से ऑनलाइन कक्षाएं प्रारंभ होगी। बता दें कि राज्य के सरकारी स्कूलों में दिसंबर के पहले सप्ताह में सेकेंड टर्म एग्जाम शुरू होने हैं। सरकारी स्कूलों में 15 दिसंबर तक परीक्षा की प्रक्रिया पूरी करनी है। पहली कक्षा से आठवीं कक्षा तक की परीक्षाओं को ऑनलाइन लेने का निर्णय पूर्व में ही लिया जा चुका है। यदि स्थिति अनुकूल नहीं रही तो 9वीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों की परीक्षाएं भी ऑनलाइन मोड में ही आयोजित होंगी।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण देश भर के स्कूल मार्च महीने से ही बंद हैं। गृह मंत्रालय (MHA) और स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय (MHFW) ने राज्य सरकार के विवेक के अनुसार, स्कूलों को फिर से खोलने की अनुमति दी है। सरकार ने स्कूलों को फिर से खोलने के लिए एसओपी भी जारी की है। कुछ राज्यों में एहतियात बरतते हुए स्कूलों को फिर से खोला गया है।