सीएम अरविंद केजरीवाल ने किया ट्वीट- किसानों पर ये जुर्म बिलकुल ग़लत

60

3 कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के किसानों का प्रदर्शन जारी है। इस बीच पंजाब से हरियाणा में दाखिल हो चुके किसान दिल्ली आने की तैयारी में जुट गए हैं। इस प्रदर्शन के मद्देनजर दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर किसानों का समर्थन किया है। उन्होंने ट्वीट किया है- ‘केंद्र सरकार के तीनों खेती बिल किसान विरोधी हैं। ये बिल वापिस लेने की बजाय किसानों को शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने से रोका जा रहा है, उन पर वॉटर कैनन चलाई जा रही हैं। किसानों पर ये जुर्म बिलकुल ग़लत है। शांतिपूर्ण प्रदर्शन उनका संवैधानिक अधिकार है।’

पंजाब से आने वाले किसानों का साथ देने ढांसा गांव में जुटे हैं किसान

दिल्ली-हरियाणा की सीमा पर स्थित ढांसा गांव में भारतीय किसान यूनियन की दिल्ली प्रदेश शाखा के पदाधिकारी बृहस्पतिवार सुबह से ही जुटे हैं। इनके साथ ढांसा व अन्य गांवों के किसान भी हैं। इनका कहना है कि पंजाब से यदि किसानों का जत्था ढांसा बार्डर के रास्ते दिल्ली में प्रवेश करता है तो उनका यहां स्वागत किया जाएगा। भारतीय किसान यूनियन से जुड़े सभी किसान इनका साथ देते हुए जंतर मंतर तक की यात्रा करेंगे। भारतीय किसान यूनियन के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह डागर ने कहा कि काेविड महामारी को देखते हुए हमें अपनी जिम्मेदारी का अहसास है। प्रदर्शन के दौरान शारीरिक दूरी बनी रहे, इसे लेकर सभी किसान पूरी तरह सतर्क हैं। ढांसा गांव से बार्डर की दूरी करीब डेढ़ किलोमीटर है। ऐसे में किसानों का जत्था समय- समय पर बार्डर जाकर स्थिति का जायजा लेकर वापस गांव लौटता है और वहां के हाल किसानों को बयां करता है।


उधर ढांसा में जुटे किसानों पर दिल्ली पुलिस की पूरी नजर है। यहां बार्डर व बार्डर से गांव की ओर जाने वाले रास्ते पर पुलिस बल की तैनाती है। उपायुक्त, सहायक आयुक्त व अन्य पुलिस अधिकारी यहां का दौरा कर स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है किसानों को समझाया जा रहा है कि वे एक जगह एकत्रित न हों।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.