वैक्‍सीनेशन की रफ्तार के मामले में भारत ने अमेरिका को पछाड़ा, जानें- अब तक कितनों को लगा टीका

0 56


Delhi News24 | कोरोना वायरस संक्रमण में आई तेजी के मद्देनजर भारत ने वैक्‍सीनेशन की प्रक्रिया भी तेज कर दी है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, अब अब तक 8.70 करोड़ (8,70,77,474) से ज्यादा लोगों को कोविड-19 वैक्‍सीन की खुराक दी जा चुकी है। इस तरह से वैक्‍सीनेशन की रफ्तार के मामले में भारत ने अमेरिका को भी पीछे छोड़ दिया है। बीते 24 घंटों के आंकड़ों के मुताबिक, अब तक जितने लोगों का वैक्‍सीनेशन किया गया है उनमें लद्दाख के 33 लाख लोग भी शामिल हैं।

सरकार द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसान अब तक 89,63,724 स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्‍सीन की पहली खुराक दी जा चुकी है जबकि वैक्‍सीन की दोनों खुराक लेने वाले स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों की संख्या 53,94913 तक जा पहुंची है। महामारी का सामना करने वाले फ्रंटलाइन वर्कर्स की बात करें तो वैक्‍सीन की पहली खुराक लेने वालों की संख्‍या 97,312826 और दोनों खुराक लेने वालों की संख्‍या 4312826 तक जा पहुंची है। इसी तरह से अब तक 45-59 वर्ष की आयु वाले 21860709 लोगों को वैक्‍सीन की पहली डोज दी जा चुकी है, जबकि दोनों डोज पाने वालों की संख्‍या 431933 है। इस श्रृंखला में 60 वर्ष से अधिक आयु के 5375953 लोगों को वैक्‍सीन की पहली खुराक और 1000787 वैक्‍सीन की दूसरी खुराक भी दी जा चुकी है। ये सभी आंकड़े 7 अप्रैल की सुबह सात बजे तक के हैं।


आपको बता दें कि भारत में बीते 24 घंटे में दूसरी बार एक लाख से अधिक नए मामले सामने आए हैं। बीते 24 घंटों के दौरान कुल 115736 नए मामले आए हैं। देश के 80 फीसद से अधिक मामले केवल आठ राज्‍यों में से सामने आए हैं, जिनमें महाराष्‍ट्र, छत्‍तीसगढ़,कर्नाटक, उत्‍तर प्रदेश, दिल्‍ली, मध्‍य प्रदेश, तमिलनाडु और केरल शामिल है। महाराष्‍ट्र में सबसे अधिक 55469 मामले बीते 24 घंटों के दौरान सामने आए हैं। इसके बाद छत्‍तीसगढ़ में 9921 और कर्नाटक में 6150 मामले सामने आए हैं।


भारत में कोरोना के एक्टिव मामलों की बात करें तो ये 843473 तक पहुंच गए हैं। भारत में कोरोना मामलों का रिकवरी रेट शुरुआत से ही काफी बेहतर रहा है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, ये रेट 92 फीसद से अधिक है। भारत में अब तक 11792135 मरीज ठीक हो चुके हें। बीते 24 घंटों की बात करें 59856 मरीजों को अस्‍पताल से डिस्‍चार्ज किया गया है, जबकि बीते 24 घंटों के दौरान 630 मरीजों की मौत हुई है। इनमें सबसे अधिक मौतें महाराष्‍ट्र से सामने आई हैं।