वीरेंद्र सहवाग इस बात पर भड़के, कहा- ‘विराट कोहली पर कोई नियम लागू नहीं होता’

0 98


भारतीय क्रिकेट टीम को विराट कोहली की कप्तानी में पहले टी20 मैच में मेजबान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत मिली और इस सीरीज की शुरुआत टीम के लिए अच्छी रही। इसके बावजूद टीम इंडिया के पूर्व ओपनर बल्लेबाज पहले मैच के लिए जो प्लेइंग इलेवन का चयन किया गया उससे नाराज नजर आए। पहले मैच के लिए टीम सेलेक्शन को लेकर उन्होंने सवाल खड़े कर दिए और विराट कोहली पर जमकर अपना भड़ास निकाला।

पहले मैच के लिए प्लेइंग इलेवन में श्रेयस अय्यर को जगह नहीं दी गई थी और उनकी जगह मनीष पांडे को प्लेइंग इलेवन में चुना गया था। सहवाग ने श्रेयस को टीम के बाहर किए जाने के बारे में कहा कि, पिछले कुछ टी20 मैचों की सीरीज में उनका फॉर्म काफी अच्छा रहा है। उन्होंने एक स्पोर्ट्स चैनल से बात करते हुए कहा कि अगर आप श्रेयस अय्यर को देखें तो पिछले कुछ टी20 सीरीज में उनका प्रदर्शन प्रभावी रहा है। जब कोई अच्छा खेल रहा है तो किस आधार पर आपने उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया।


सहवाग ने पूछा कि, श्रेयस को टीम में नहीं रखने का कारण क्या था। मुझे नहीं लगता कि श्रेयस अय्यर के पास इतनी हिम्मत होगी कि वो जाकर पूछ सकें कि उन्हें पहले मैच में क्यों शामिल नहीं किया गया। यहां पर एक बात मैं और कहना चाहूंगा कि सारे नियम टीम इंडिया के सभी खिलाड़ियों के लिए लागू होते हैं और ये सिर्फ विराट कोहली पर लागू नहीं होते। विराट को छोड़कर सभी नियम सभी खिलाड़ियों पर लागू होते हैं, लेकिन उनके उपर कोई नियम लागू नहीं होता। ना ही उनके बल्लेबाजी क्रम में कोई बदलाव होता है और अगर वो खराब फॉर्म में हैं तो भी उन्हें ब्रेक नहीं दिया जाता है जो बेहद गलत है।


पहले मैच में प्लेइंग इलेवन में युजवेंद्रा चहल को भी शामिल नहीं किया गया था, लेकिन रवींद्र जडेजा के इंजर्ड होने के बाद कन्कशन रिप्लेसमेंट के जरिए चहल को खेलने का मौका मिला और उन्होंने कमाल का प्रदर्शन करते हुए तीन विकेट लिए और फिंच व स्मिथ जैसे बल्लेबाजों को आउट कर टीम इंडिया की जीत में अहम योगदान दिया।