विदेशी निवेशक जमकर कर रहे भारतीय शेयर बाजारों में निवेश, रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंचा योगदान

0 119


विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक लगातार भारतीय शेयर बाजारों में निवेश कर रहे हैं। एफपीआई (FPI) ने सितंबर तिमाही में भारतीय शेयर बाजारों में 6.3 बिलियन डॉलर निवेश किये हैं। मॉर्निंग स्टार की एक रिपोर्ट के अनुसार, एफपीआई का यह निवेश आकर्षक वैल्यूएशन, अर्थव्यवस्था के खुलने और कारोबारी गतिविधियों में बहाली के चलते आया है।

इससे पहले जून तिमाही में एफपीआई ने भारतीय शेयर बाजारों में 3.9 बिलियन डॉलर का शुद्ध निवेश किया था। वहीं, मार्च तिमाही में एफपीआई ने भारतीय शेयर बाजारों से 6.38 बिलियन डॉलर की शुद्ध निकासी की थी।

इसके साथ ही, भारतीय शेयरों में एफपीआई निवेश की वैल्यू सितंबर तिंमाही के दौरान काफी अधिक बढ़ी है। यह शुद्ध निवेश में वृद्धि और भारतीय शेयर बाजारों के मजबूत प्रदर्शन के कारण हुआ है।

सितंबर में समाप्त हुई तिमाही में भारतीय शेयरों में एफपीआई निवेश की कुल वैल्यू 450 बिलियन डॉलर हो गई है। यह इससे पहले की तिमाही में दर्ज किये गए 344 बिलियन डॉलर से काफी अधिक है। इस तरह इसमें करीब 31 फीसद का इजाफा हुआ है।

समीक्षाधीन अवधि के दौरान भारतीय शेयर बाजार की पूंजी में एफपीआई का योगदान बढ़कर 21.4 फीसद हो गया है। यह जून तिमाही में 18.7 फीसद रहा था।


यह भारतीय शेयर बाजारों में एफपीआई के योगदान का रिकॉर्ड उच्च स्तर है। पिछला उच्च स्तर मार्च 2015 में 20.5 फीसद था। मॉर्निंग स्टार की रिपोर्ट में कहा गया, ‘सितंबर महीने में समाप्त हुई तिमाही के लिए विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक 6.3 अरब डॉलर के इनफ्लो के साथ शुद्ध खरीदार रहे। यह पिछली तिमाही के 3.9 अरब डॉलर के इनफ्लो की तुलना में वाकई काफी अधिक है।’