वानखेड़े स्टेडियम में कोरोना का कहर जारी, 3 सदस्य और निकले कोविड 19 पॉजिटिव

113


इंडियन प्रीमियर लीग के 14 वें संस्करण की शुरुआत से पहले, दो ग्राउंडस्टाफ सदस्यों और एक प्लंबर को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में कोविड -19 टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है। मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) के सूत्रों ने मंगलवार को इस बात की पुष्टि की। यह भी पता चला है कि वानखेड़े स्टेडियम में सुरक्षित रूप से आइपीएल का संचालन करने के लिए ग्राउंडस्टाफ के सदस्य यात्रा नहीं करेंगे और वे स्टेडियम में ही रहेंगे।

मंगलवार को एमसीए के सूत्र ने कहा, “दो और ग्राउंडस्टाफ सदस्य और एक प्लंबर सोमवार को कोविड-19 टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। इससे पहले 10 ग्राउंडस्टाफ सदस्यों को भी वानखेड़े स्टेडियम में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया जा चुका है। वानखेड़े स्टेडियम के अंदर एक क्लब हाउस है, आइपीएल को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए मुंबई लेग खत्म होने तक सभी ग्राउंडस्टाफ वहां रहेंगे।”


पिछले हफ्ते वानखेड़े स्टेडियम के ग्राउंडस्टाफ के कई सदस्य कोविड पॉजिटिव निकले थे तो इससे कुछ फ्रेंचाइजी डर गई थीं, जो खासकर मुंबई में हैं। एएनआइ से बात करते हुए एक फ्रेंचाइजी के एक अधिकारी ने कहा था,”यह स्थिति को बदलता है और सख्त प्रोटोकॉल के लिए कहता है।” अभी तक ऐसा था कि ग्राउंड स्टाफ के सदस्य काम करने के बाद घर जाते थे और फिर दूसरे दिन फिर काम पर जुटते थे, लेकिन अब एमसीए ने इसे बंद कर दिया है।

वहीं, अगर खिलाड़ियों की बात करें तो सबसे पहले कोलकाता नाइट राइडर्स के बल्लेबाज नितीश राणा को कोरोना से संक्रमित पाया गया था, जो मुंबई में ही थे। वहीं, इसके बाद दिल्ली कैपिटल्स के ऑलराउंडर अक्षर पटेल को भी कोविड 19 टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया था। संयोग से अक्षर पटेल भी मुंबई में हैं। हालांकि, आरसीबी के ओपनर देवदत्त पडिक्कल भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं, लेकिन वे चेन्नई में हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.