वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के लिए ये भारतीय खिलाड़ी है सबसे महत्वपूर्ण, पूर्व क्रिकेटर ने बताया नाम

0 40


भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने चेन्नई के MA चिदंबरम स्टेडियम में 5 फरवरी से शुरू होने वाली इंग्लैंड के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए 18 सदस्यीय टीम में ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को शामिल कर क्रिकेट बिरादरी को सुखद आश्चर्यचकित किया था। हार्दिक पांड्या अपनी पीठ की सर्जरी के कारण गेंदबाजी का अभ्यास नहीं कर रहे हैं। इस तरह वे भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे।

बावजजूद इसके पूर्व भारतीय विकेटकीपर-बल्लेबाज और मौजूदा क्रिकेट कमेंटेटर दीप दासगुप्ता का मानना है कि हार्दिक पांड्या को टेस्ट टीम में शामिल किया गया है, क्योंकि इन दिनों बहुत ज्यादा लाल गेंद वाली घरेलू क्रिकेट नहीं हो रही है, जिसका मतलब है कि उन्हें सबसे लंबे प्रारूप में खेलने का मौका नहीं मिल रहा है। इसके अलावा उन्होंने भारत के बाहर टेस्ट खेलने के लिए हार्दिक पांड्या को चुना है, जो भारत के लिए महत्वपूर्ण हैं।

उन्होंने स्पोर्ट्सकीड़ा से बात करते हुए कहा, “उसके कारणों में से एक यह है कि अभी बहुत घरेलू क्रिकेट नहीं हो रही है और जो कुछ भी घोषित किया गया है वह मुख्यतः सफेद गेंद वाला क्रिकेट है। जब हम बाहर की यात्रा शुरू करते हैं तो हार्दिक पांड्या बहुत महत्वपूर्ण हो जाते हैं। घर में आप उनकी अहमियत को महसूस नहीं कर सकते, क्योंकि आपने अश्विन और रवींद्र जडेजा को ऑल राउंडर के तौर पर पेश किया हुआ, लेकिन जब आप विदेश में होते हैं तो उनका महत्व 10 गुना बढ़ जाता है।”

दीप दासगुप्ता ने आगे कहा, “इंग्लैंड के खिलाफ एक विशाल सीरीज आ रही है, भारत के लिए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में पहुंचने के लिए ये बहुत अच्छा मौका है, मुझे लगता है कि फाइनल के लिए हार्दिक पंड्या बहुत महत्वपूर्ण होंगे। टीम में उनका समावेश यह सुनिश्चित करने के लिए है कि एक गेंदबाज के रूप में उनकी प्रगति पर नजर रखी जाए। इसलिए, मुझे नहीं लगता कि हम उन्हें पहले टेस्ट मैचों में खेलते हुए देखेंगे, लेकिन मुझे लगता है कि उनकी गेंदबाजी की प्रगति पर निगरानी रखने के लिए शामिल किया गया है।”