यूके से दिल्ली आने वाले यात्रियों के लिए नई गाइडलाइन्स, नेगेटिव होने पर भी रहना पड़ेगा क्वारंटाइन

0 67


दिल्ली सरकार ने ब्रिटेन में फैले कोरोना के नए स्ट्रेन (स्वरुप) से शहर के लोगों की सुरक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण फैसला किया है। केजरीवाल सरकार ने निर्णय किया है कि ब्रिटेन से दिल्ली आने वाले उन सभी यात्रियों को भी क्वारंटाइन रहना पड़ेगा जो कोरोना पॉजिटिव नहीं होंगे। सरकार की तरफ से कहा गया है कि नेगेटिव यात्रियों को दिल्ली में सात दिन के लिए क्वारंटाइन रहना होगा। इसके बाद उन्हें सात दिन के लिए होम क्वारंटाइन रहना पड़ेगा।

सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि जो यात्री पॉजिटिव होंगे उन्हें तो क्वारंटाइन रहना ही पड़ेगा लेकिन जो लोग नेगेटिव होंगे उन्हें भी क्वारंटाइन में 14 दिन रहना पड़ेगा।

बता दें कि ब्रिटेन से दिल्ली के लिए उड़ाने शुरू कर दी गई हैं। ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन का खतरा बढ़ गया है। इसलिए दिल्ली सरकार ने महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए यात्रियों को क्वारंटाइन रहने का आदेश दिया है।

ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर 31 तक रोक की मांग

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के मामले तेजी से सामने आने के मद्देनजर ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर 31 जनवरी तक प्रतिबंध को बढ़ाने की मांग की है। ब्रिटेन में कोरोना संक्रमण के गंभीर मामलों को देखते हुए बृहस्पतिवार को उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने केंद्र से आग्रह किया है कि ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध बढ़ा दिया जाए। ताकि दिल्ली में कोरोना के नए स्ट्रेन (स्वरुप) से लोगों को बचाया जा सके।


केजरीवाल ने कहा कि ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन के मामले बढ़ रहे हैं, लेकिन केंद्र ने वहां की उड़ानों पर प्रतिबंध हटा दिया है। ब्रिटेन की उड़ानें फिर शुरू करने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बड़ी मुश्किल से लोगों ने कोरोना की स्थिति पर नियंत्रण पाया है। ब्रिटेन में कोरोना संक्रमण की स्थिति गंभीर है। अब, प्रतिबंध क्यों हटाएं और हमारे लोगों को जोखिम में डालें?