यहां समझिए कैसे-कैसे किन चरणों में पूरा होगा आपका टीकाकरण

0 90


नया साल ना सिर्फ देशवासियों के लिए खुशखबरी लेकर आया है। इसका सबसे बड़ा कारण है कि देश- दुनिया में फैली महामारी कोरोना को इलाज का मिलना। सरकार के द्वारा टीके को मंजूरी देने के बाद से ही लोगों में एक खुशी है। लोग अब इंतजार में हैं कि आखिर कब तक वैक्‍सीन मार्केट में आएगी। गहरी उदासी और अनिश्चितता के बीच बीता 2020 के बाद साल 2021 एक नया सवेरा लेकर आया है। ऐसे में लोग यह जानने के लिए बेताब हैं कि आखिर कैसे-कैसे किन-किन चरणों से होकर टीकाकरण का स्‍टेप पूरा होगा। तो आइए जानते हैं कैसे लगेगा आपको कोरोना का टीका, जानते हैं पूरा पांचों स्‍टेप।


टीका लगाने के लिए हुआ ड्राई रन

शनिवार को दिल्ली समेत पूरे देश में कोरोना का टीका लगाने के लिए ड्राई रन (पूर्वाभ्यास) किया गया। दरियागंज स्थित स्वास्थ्य केंद्र में डाक्टर व स्वास्थ्य कर्मियों ने टीका लगाने की पूरी तैयारियों का पूर्वाभ्यास किया, जिसका केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाक्टर हर्षवर्धन और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन व स्वास्थ्य सचिव ने निरीक्षण किया। इसमें आशा वर्कर को भी शामिल किया गया, जिनसे मंत्रियों और अधिकारियों ने बातचीत की।


टीकाकरण को लेकर तैयारियां पूरी

अपर जिला मजिस्ट्रेट नागेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि डाक्टरों की टीकाकरण को लेकर पूरी तैयारियां हो चुकी हैं, बस अब वैक्सीन का इंतजार किया जा रहा है, जो लोगों को जल्द से जल्द लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि जब वैक्सीन आ जाएगी तो स्वास्थ्य विभाग की ओर से टीकाकरण करने के लिए कोविन एप जारी की जाएगी, जिसपर टीकाकरण कराने वाले व्यक्ति को पंजीकरण कराना होगा, जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग की ओर से उनके पास मैसेज या कॉल जाएगी, जिसके बाद उन्हें नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र तक आना होगा।


ऐसे होगा टीकाकरण

अधिकारियों का कहना है कि स्वास्थ्य केंद्रों में टीकाकरण कराने वाले किसी भी व्यक्ति को पांच चरणों का सामना करना होगा, जिसके तहत पांच अलग-अलग स्थानों पर बैठे टीकाकरण अधिकारी से मिलना होगा और निर्देशों का पालन करना होगा

टीकाकरण अधिकारी-1 के पास जाकर नाम, पता और नंबर दर्ज कराना होगा। इसी स्थान पर थर्मल स्क्रीनिंग और मास्क की जांच की जाएगी।
टीकाकरण अधिकारी-2 के पास कोविन कंप्यूटर में भी पूरी जानकारी दर्ज करानी होगी। यहां उसे एक पर्ची दी जाएगी।
पर्ची लेकर टीकाकरण अधिकारी -3 के पास जाना होगा। जहां डाक्टर व स्वास्थ्य कर्मी उसका टीकाकरण करेंगे। इसके बाद उसकी दोबारा से कंप्यूटर में एंट्री की जाएगी कि संबंधित व्यक्ति को टीका लगा है या नहीं।
इसके बाद टीकाकरण अधिकारी-4 के पास उसे 30 मिनट तक बैठाया जाएगा और देखा जाएगा कि उस व्यक्ति को किसी तरह की कोई दिक्कत तो नहीं हो रही है। अगर किसी को कोई परेशानी होगी तो उसे नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा।
अगर किसी को कोई दिक्कत नहीं होगी तो वह टीकाकरण अधिकारी -5 के पास जाएगा और एक बार फिर अपनी सभी जानकारी उन्हें देगा, जिसके बाद उसे घर भेजा जाएगा।