मो. कैफ ने कारण देते हुए बताया कि कौन इंडियन प्लेयर उन्हें दिलाता है ‘द वॉल’ राहुल द्रविड़ की याद

0 114


भारतीय क्रिकेट में राहुल द्रविड़ का क्या कद है ये शायद ही बताने की जरूरत है। संकट मोचक और द वॉल जैसे नाम से मशहूर द्रविड़ ने टीम इंडिया के लिए कई भूमिकाएं निभाई और वो हर रोल में फिट नजर आए थे। सौरव गांगुली की कप्तानी में उन्होंने टीम इंडिया के लिए विकेटकीपर-बल्लेबाज का रोल 2003 वनडे वर्ल्ड कप में बखूबी निभाया था और टीम फाइनल तक पहुंची थी। द्रविड़ की वजह से टीम को एक अन्य गेंदबाज या बल्लेबाज का विकल्प उपलब्ध हो जाता था जो बेहद फायदेमंद था।

अब एम एस धौनी के रिटायरमेंट के बाद टीम इंडिया एक अदद विकेटकीपर-बल्लेबाज की तलाश में है। हालांकि फिलहाल ये रोल वनडे व टी20 में केएल राहुल बखूबी निभा रहे हैं और अपने काम को शानदार अंदाज में अंजाम दे रहे हैं। अब टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज व बेहतरीन फील्डर रहे मो. कैफ ने बताया कि उन्हें केएल राहुल काफी हद तक द वॉल राहुल द्रविड़ की याद दिलाते हैं। केएल राहुल टीम के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं और ये दिखाता है कि वो टीम-प्लेयर हैं।

कैफ ने कहा कि, केएल टीम के लिए नंबर पांच पर भी बल्लेबाजी के लिए तैयार रहते हैं और वो ओपनिंग भी करते हैं। टीम मैनेजमेंट और कप्तान के तौर पर आपको केएल राहुल जैसे खिलाड़ी की तलाश रहती है जो टीम के लिए कुछ भी करने को तैयार रहता है। बहुत कम ऐसे खिलाड़ी होतेे हैं जो इस तरह के होते हैं। राहुल द्रविड़ भी इसी तरह से खिलाड़ी थेे। आपको बता दें कि केेएल राहुल ने टीम इंडिया के लिए पहले टी20 मैच में ओपनिंग करते हुए अर्धशतक लगाया था और टीम की टीम में शानदार भूमिका निभाई थी। इस मैच में राहुल ने 51 और जडेजा ने तेज नाबाद 44 रन की पारी खेली थी।


कैफ ने केएल राहुल की इस पारी के बारे में कहा कि ये एक परफेक्ट इनिंग थी। उन्होंने काफी अच्छी शुरुआत की थी और हम आशा कर रहे थे कि वो 80-90 रन बनाएंगे, लेकिन आउट हो गए। हालांकि उनकी के इनिंग काफी अच्छी रही क्योंकि एक बल्लेबाज स्थिति के मुताबिक बल्लेबाजी करता है। वो तेज शॉट खेल सकते थे, लेकिन उन्होंने देखा कि विकेट गिरते जा रहे हैं तो उन्होंने खुद पर कंट्रोल करते हुए ये पारी खेली और वो अंत तक खेलना चाहते थे।