मिजोरम में इस वर्ष के अंत तक नहीं खुलेंगे स्कूल, पढ़ें डिटेल

0 71


मिजोरम सरकार ने राज्य भर में सभी स्कूलों को इस वर्ष के अंत तक बंद रखने का निर्णय लिया है। कोविड-19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए यह निर्णय लिया गया है। यह जानकारी शिक्षा मंत्री लालचंदमा राल्ते की तरफ से दी गई है। शिक्षा मंत्री ने बताया कि केजी से 12वीं तक के छात्रों की कक्षाएं कोरोना वायरस महामारी के कारण इस साल तक स्थगित रहेंगी। क्योंकि, सर्दियों में महामारी के मामले बढ़ने की आशंका है।

शिक्षा मंत्री ने संभावना व्यक्त की है कि स्कूलों को अगले वर्ष 15 जनवरी से फिर से खोला जा सकता है। हालांकि, इस संबंध में अंतिम निर्णय राज्य की कार्यकारी समिति को लेना है। बता दें कि कोरोना वायरस महामारी के कारण लगे देशव्यापी लॉकडाउन की वजह से राज्य में मार्च महीने से ही से सभी स्कूल व अन्य शैक्षणिक संस्थान बंद हैं। हालांकि, कक्षा 10 और 12 के छात्रों के लिए नियमित कक्षाएं 16 अक्टूबर से फिर से शुरू की गई थीं। लेकिन, कई छात्रों के कोविड पॉजिटिव होने के बाद इसे फिर से स्थगित कर दिया गया था।

बता दें कि राज्य शिक्षा विभाग ने इस वर्ष के लिए 18 दिसंबर तक और अगले वर्ष 5 से 14 जनवरी तक ऑनलाइन कक्षाओं को जारी रखने का भी निर्णय लिया है। विभाग ने सिलेबस में 30 प्रतिशत की कटौती करने पर सहमति व्यक्त की है और मिजोरम बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन (MBSE) को निर्देश दिया है कि वे कक्षा 10 और 12 के छात्रों के लिए मॉडल प्रश्न तैयार करें, क्योंकि उन्हें अगले साल बोर्ड की परीक्षाओं में शामिल होना है।


गौरतलब है कि महामारी के कारण कई राज्यों ने स्कूलों को बंद रखने का निर्णय लिया है। हाल ही में, हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्य में स्कूल, कॉलेज सहित सभी शिक्षण संस्थानों को 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यह निर्णय लिया गया। वहीं, दिल्ली के स्कूलों को फिर से खोले जाने की संभावनाओं पर भी फिलहाल विराम लग गया है। राज्य के उपमुख्यमंत्री सह शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती है, दिल्ली में सभी स्कूल बंद रहेंगे। इसके अलावा, बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने भी मुंबई में सभी स्कूलों को 31 दिसंबर तक बंद रखने की घोषणा की है।