मायापुरी मेट्रो स्टेशन पर लावारिस सूटकेस मिलने से मचा हड़कंप, सच्चाई सामने आई तो CISF जवान भी हुए हैरान

0 54


दिल्ली-एनसीआर के लाखों यात्रियों की लाइफलाइन दिल्ली मेट्रो अपनी सुरक्षा के लिए भी जानी जाती है। इसी के साथ मेट्रो स्टेशनों पर सुरक्षा बेहद चाकचौबंद रहती है, लेकिन कई बार कुछ लोगों की साधारण सी लगती बड़ी मुसीबत बन जाती है। शुक्रवार शाम को मायापुरी मेट्रो स्टेशन पर राजस्थान के जोधपुर के रहने वाले नीरज कुमार नाम के शख्स की वजह से काफी दर हड़ंकप की स्थिति रही। दरअसल, पश्चिमी दिल्ली के मायापुरी मेट्रो स्टेशन पर शुक्रवार शाम उस समय हड़कंप मच गया, जब वहां एक लावारिस बैग मिला। दरअसल, यहां पर तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवान ने शुक्रवार शाम को जांच की कड़ी में एक्स रे मशीन के पास एक लावारिस हालत में बैग रखा देखा तो वह सतर्क हो गया। उसने तत्काल इसकी सूचना यहां पर तैनात हेड कॉन्स्टेबल पी कालिंदी को दी। इस पर उन्होंने इसकी जानकारी अपने वरिष्ठ अधिकारी के अलावा बॉम्ब डिस्पोजल स्क्वॉवड को भी दी। उधर, हालात की गंभीरता को भांपते हुए बम निरोधक दस्ता वहां पहुंचा और बैग को स्कैन किया गया।


बैग में था कैश

बम निरोधक दस्त ने जब बैग को पूरी तरह से स्कैन किया गया तो उसमें किसी तरह का विस्फोटक नहीं मिलने पर जहां CISF के जवानों ने राहत की सांस ली तो वहीं वह यह देखकर भी हैरान रह गए कि उसमें पैसे रखे हुए थे। CISF टीम की मानें तो जांच के दौरान बैग के अंदर नकदी और कुछ कीमती सामान मिला। इस पर जवानों ने बैग को मायापुरी मेट्रो स्टेशन के सुरक्षा रूम में रखवा दिया गया।


कुछ घंटों बाद स्टेशन पर पहुंचा दावेदार

वहीं, कुछ घंटे बाद नीरज कुमार नाम का शख्स मायापुरी मेट्रो स्टेशन पर पहुंचा और उसने बैग पर अपना दावा किया। नीरज ने बताया कि वह अपने कारोबार के सिलसिले में राजस्थान से दिल्ली आया था। इस दौरान मायापुरी मेट्रो स्टेशन पर गलती से अपना बैग एक्स रे मशीन के पास ही भूल गया था। वहीं, नीरज के दावों को पुष्टि करने के बाद सीआइएसफ अधिकारियों ने बैग नीरज को सौंप दिया।


यहां पर बता दें कि 2 दिन पहले यानी बुधवार को भी एक यात्री द्वारका सेक्टर-21 जाने वाली मेट्रो ट्रेन में रुपये से भरा बैग भूल गया था। दरअसल, मूल रूप से बिहार के रहने वाले खुर्शीद आलम ने नवादा मेट्रो स्टेशन पर गलती से अपना 2 लाख रुपयों से भरा बैग भूल गए थे। इससे वहां पर काफी देर तक हड़कंप मचा रहा। फिर खुर्शीद आलम से सामान्य पूछताछ व छानबीन के बाद रुपये से भरा बैग यात्री के हवाले कर दिया गया।