बेसहारा पशुओं को पकड़ने के लिए आज से शुरू होगा अभियान

79


उत्तरी दिल्ली नगर निगम में बेसहारा पशुओं की वजह से होने वाली दुर्घटनाओं और गंदगी से निजात दिलाने बृहस्पतिवार से विशेष अभियान शुरू होगा। इस अभियान के तहत सड़कों व रिहायशी क्षेत्रों में बेसहारा पशुओं को पकड़ने के लिए निगम की टीमें निरीक्षण करेंगी। निगम की कोशिश होगी कि बेसहारा गाय को को पकड़कर उन्हें गोशाला में भेजा जाए।

उत्तरी हिस्से नगर निगम की स्थायी समिति के अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी ने कहा कि हम देखते हैं कि सड़कों पर बेसहारा पशु बैठे रहते हैं। इसकी वजह से न केवल जाम की समस्या होती है, बल्कि सड़क दुर्घटनाएं भी होती हैं। नागरिकों की भी इस संबंध में बहुत शिकायतें आ रही हैं। इसको देखते हुए निगम ने आवारा पशुओं को पकड़ने के लिए विशेष अभियान शुरू करने का फैसला लिया है। अभियान में पशुओं का व्यापार के लिए इस्तेमाल करने वाली अवैध डेयरियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इन पर सीलिंग के साथ गंदगी फैलाने के पर चालान किए जाएंगे। दिल्ली जल बोर्ड को बिजली विभाग को उनका बिजली पानी का कनेक्शन काटने के लिए पत्र लिखा जाएगा।

गोस्वामी ने बताया कि निगम बेसहारा पशुओं को पकड़ने के लिए एक ठोस नीति भी बना रहा है। इसके तहत जुर्माने की राशि को बढ़ाया जाएगा वह सजा के प्रावधान को भी बड़ा जाएगा वर्तमान में अभी 100 से लेकर 500 तक का जुर्माना है जिसे पचास हजार से लेकर 100000 तक किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि निगम के पास है आधुनिक महान है जो इन बेसहारा पशुओं को पकड़ने में मदद करते हैं। नेता सदन योगेश वर्मा ने कहा कि हम स्वच्छता रैंकिंग सुधारने के लिए बेहतर प्रयास कर रहे हैं। लेकिन देखने में आ रहा है कि सफाई होने के बाद इन बेसहारा पशुओं के मल मूत्र से फिर से सड़कों पर गंदगी हो जाती है जिसकी वजह से निगम सर्वेक्षण में अच्छा स्थान प्राप्त नहीं हो रहा है इसलिए निगम इन बेसहारा पशुओं को पकड़कर गौशालाओं में ले जाएगा जिससे गंदगी की समस्या से भी निगम को निदान मिलेगा और नागरिकों को भी सहूलियत मिलेगी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.