प्रिया रमानी ने एमजे अकबर पर लगाया सनसनीखेज आरोप, कहा – छुपाते हैं अपनी असलियत

0 62


मीटू मामले में रामानी ने कोर्ट ने कहा कि अकबर जो दिखाते हैं वह उनकी वास्‍वतिक छवि नहीं है। शनिवार को दिल्‍ली कोर्ट में आपराधिक मानहानि की शिकायत मामले की सुनवाई के दौरान पत्रकार प्रिया रमानी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के खिलाफ कई सनसनीखेज खुलासा किया। उन्‍होंने कोर्ट में साफ तौर पर कहा कि अकबर जो अपनी छवि लोगों के सामने प्रस्‍तुत करते हैं वह उनकी असली छवि नहीं है। प्रिया रमानी ने जिसने एमजे अकबर पर लगभग 20 साल पहले यौन शारीरिक छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। इसी मामले में अंतिम सुनवाई के दौरान वरिष्ठ वकील रेबेका जॉन के माध्यम से यह बातें उन्‍होंने कहीं।

सच के लिए उठाया गया कदम

प्रिया ने आगे बताया कि अकबर पर और भी कई महिलाओं ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं। बता दें कि अकबर ने रमानी के खिलाफ 20 साल पहले यौन उत्पीड़न का आरोप लगाकर उसे बदनाम करने की शिकायत दर्ज की थी, यह वह वक्‍त था जब वह अपने कैरियर में पत्रकार के तौर पर काम कर रहे थे। रमानी ने कहा कि 2018 में मीटू अभियान के तहत करीब 20 साल पहले की गई गलतियों को समाज के सामने लाकर अच्छा किया। यह सच के लिए उठाया गया कदम था।


क्‍या है पूरा मामला

महिला पत्रकार प्रिया रमानी जब एमजे अकबर की जूनियर के तौर पर काम कर रही थीं तब वह उन्‍हें काफी परेशान करते थे। वह अकबर के बड़े ओहदे के भय के कारण कोई कदम नहीं उठा पाईं थीं। यहां तक कि 1997 में अकबर ने किसी को उनके पास संदेश देकर भेजा कि अकबर उससे प्यार करते हैं और उनका विरोध नहीं करना चाहिए। बता दें कि मीटू अभियान के तहत सबसे पहले प्रिया रमानी ने एमजे अकबर पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। इसके बाद एक दर्जन महिलाओं ने रमानी का साथ दिया था।