पीएम मोदी के अलावा देश-विदेश की इन हस्तियों को भी दी जा चुकी है कोरोना वैक्‍सीन

0 60

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को भारत में बनी कोरोना वैक्‍सीन लेकर उन लोगों को करारा जवाब दिया है जो अब तक इसको लेकर तरह-तरह की बातें फैला रहे हैं। साथ ही उन लोगों को भी जवाब दिया है जो इसको लेकर सवाल खड़े कर रहे थे। पीएम मोदी ने देश की जनता से अपील भी की कि वो इन बातों में न आएं और अपनी बारी आने पर वैक्‍सीन जरूर लें। इसके साथ ही उन्‍होंने भारत को इस महामारी से मुक्‍त करने के अपने संकल्‍प को भी दोहराया है। पीएम मोदी को भारत बायोटेक की कोवैक्सीन की पहली डोज दी गई है। पीएम मोदी के अलावा आज ओडिशा के मुख्‍यमंत्री नवीन पटनायक और बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने भी कोरोना वैक्‍सीन लगवाई है। उनके अलावा दोनों उपमुख्यमंत्री और दो मंत्रियों को भी कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी गई।

आपको बता दें कि भारत सरकार के आंकड़ों के मुताबिक अब तक 1,43,01,266 लोगों का वैक्‍सीनेशन किया जा चुका है। भारत में कोविड-19 वैक्‍सीनेशन की शुरुआत 16 जनवरी 2021 को हेल्थकेयर वर्कर्स से हुई थी। तब से लेकर आज तक भारत बड़ी तेजी के साथ लोगों को इस महामारी से बचाने में आगे की तरफ बढ़ रहा है।केंद्र और राज्‍य सरकारें मिलकर लोगों के मन में पल रही चिंताओं और सवालों को दूर करने का काम कर रही हैं। गौरतलब है कि हरियाणा के मंत्री अनिल विज को पिछले वर्ष नवंबर में कोरोना वैक्‍सीन दी गई थी। इसी तरह से जनवरी में बॉलीवुड अदाकारा शिल्‍पा शिरोडकर ने भी कोरोना वैक्‍सीन ली थी। फिल्‍म इंडस्‍ट्री से जुड़ी वो पहली हस्‍ती थीं जिन्‍होंने कोरोना वैक्‍सीन ली थी। हालांकि उन्‍होंने ये वैक्‍सीन दुबई में लगवाई थी।


इन लोगों के अलावा विदेशो की चर्चित हस्तियों ने भी कोरोना वैक्‍सीन लेकर दुनिया को एक संदेश देने की कोशिश की है। बहरीन के क्राउन प्रिंस सलमान बिन हमाद अल खलीफा तो सितंबर 2020 में खुद कोरोना वैक्‍सीन के थर्ड फेज के ट्रायल के लिए वॉलेंटियर की तरह पेश हुए थे। उन्‍हें चीन की फार्मा कंपनी सिनोफार्म की बनी कोरोना वैक्‍सीन की खुराक दी गई थी। नवंबर में संयुक्‍त अरब अमीरात के उपराष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री शाह शेख मोहम्‍मद बिन राशिद अल मकदूम ने भी चीन की बनाई कोरोना वैक्‍सीन की खुराक ली थी।


पिछले वर्ष दिसंबर में अमेरिका के तत्‍कालीन उपराष्‍ट्रपति माइक पेंस ने भी कोरोना वैक्‍सीन लगवाकर दुनिया को संदेश दिया था कि वैक्‍सीन प्रभावी भी है और सुरक्षित भी है। बाइडन ने भी अमेरिकी राष्‍ट्रपति का पद संभालने से पहले दिसंबर के अंत में कोरोना वैक्‍सीन ली थी। नैंसी पॉलेसी को भी इसी दौरान कोरोना वैक्‍सीन दी गई थी। उन्‍हें फाइजर बायाएनटेक की बनाई कोरोना वैक्‍सीन दी गई थी। इसी दौरान रिचर्ड ब्रान्‍सन और उनकी पत्‍नी, हॉलीवुड स्‍टार और केलीफॉर्निया के गवर्नर अर्नाल्ड श्वार्जनेगर, इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामेन नेतन्‍याहू, सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्‍मद बिन सलमान, अमेरिका के पूर्व राष्‍ट्रपति बराक ओबामा, पूर्व राष्‍ट्रपति जॉर्ज डब्‍ल्‍यू बुश, पूर्व राष्‍ट्रपति बिल क्लिंटन और हॉलीवुड एक्‍टर सर इयान मैककेलेन ने कोरोना वैक्‍सीन ली थी। इन सभी ने वैक्‍सीन को लेकर दुनिया को ये संदेश देने की कोशिश की थी कि वैक्‍सीन के साथ एहतियात इस महामारी से बचने का एकमात्र उपाय है। इन सभी ने अपील की थी कि कोई भी इस वैक्‍सीन को लेने से न चूकें।


जनवरी में संयुक्‍त राष्‍ट्र प्रमुख एंटोनियो गुटारेस ने भी कोरोना वैक्‍सीन को लेकर दुनिया को संदेश दिया था। इसके अलावा ब्रिटेन की रानी एलिजाबेथ द्वितीय और राजा फ्लिप को भी इसी माह कोरोना वैक्‍सीन दी गई थी। इंडोनेशिया के राष्‍ट्रपति जोको विडोडो शिशिल्‍स के राष्‍ट्रपति ववेल रामकलावन, स्‍वीडन के राजा कार्ल्‍स गुस्‍ताव और उनकी पत्‍नी सिलिविया, फरवरी 2021 में ब्रिटेन के राजकुमार चार्ल्‍स और उनकी पत्‍नी केमिला को भी कोरोना वैक्‍सीन दी गई थी।